Let’s travel together.

मेरो बेटा भूखो ही सोयो मेरे राम-सहरिया क्रांति नूतन बर्ष अभिनंदन कार्यक्रम में गीतों के माध्यम से आदिवासी महिलाओं ने किया व्यवस्था पर प्रहार

0 518

नया जमाना लाने बर्ष भर चलायेगी सहरिया क्रांति अभियान

शिवपुरी। गेंहूं हमने काटे ,धान हमने रोपीं ,
अनाजन से भर दये गोदाम
फिर भी मेरो बेटा भूखो ही सोयो मेरे राम …..
ये पंक्तियाँ नूतन बर्ष स्वागत समारोह में सहरिया क्रांति कि गुन्जाबाई के द्वारा गीत का बीच की हैं जिसमे भ्रष्ट व्यवस्था पर इस गीत के माध्यम से दमदार प्रहार किया . आजादी के लम्बे समय बाद भी सहरिया आदिवासी समाज सरकारी भ्रष्टाचार के कारण फटेहाल जिंदगी जीने को विवश है . सहरिया आदिवासी समाज की वर्तमान स्थिति का गीतों के माध्यम से बखान करते हुए सहरिया क्रांति के सेंकडों सहरिया आदिवासियों ने नवबर्ष का स्वागत उत्साहपूर्ण माहोल में किया .संजय बेचैन के निवास पर सुबह से शाम तक हजारों आदिवासी महिला पुरुष शुभकामनाओं के साथ पहुंचे . सभी लोग नवबर्ष पर नव संकल्प लेकर अपने-अपने गांवों की ओर रवाना हुए .
नूतन बर्ष अभिनंदन समारोह पर सहरिया क्रांति महा पंचायत का भी आयोजन किया गया जिसके प्रारम्भ में सहरिया क्रांति के राष्ट्रीय संयोजक संजय बेचैन ने सभी का अभिनन्दन किया तत्पश्चात उपस्थित सहरिया क्रांति परिवार के सदस्यों को संबोधित करते हुए संजय बेचैन ने कहा कि सहरिया क्रांति ने सहरिया जनजाति के उत्थान हेतु पिछले एक दशक में वो सामाजिक परिवर्तन लाया है जो हजारों एनजीओ व कई सरकारें नहीं ला सकीं . आज सहरिया समाज का हर व्यक्ति स्वयं को व्यसन मुक्त कर विकास कि मुख्य धारा में जुडकर गर्वित हो रहा है . उन्होंने कहा कि सहरिया अंचल में शोषण दमन ख़त्म हो रहा है आदिवासी युवा युवतियां अब अपने हक अधिकारों के प्रति जागरूक हो रहे हैं . और यह महा अभियान तब तक चलता रहेगा जब तक सहरिया जनजाति शोषण दमन के कुचक्र से पूरी तरह बाहर नहीं आ जाती है .
महा पंचायत में अपने विचार रखते हुए सहरिया क्रांति के विजय आदिवासी ने कहा कि सहरिया क्रांति के माध्यम से समाज के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति को न्याय मिल सके हमारा यह प्रयास रहता है , शोषण दमन का जमाना अब खत्म होकर रहेगा , किसी को भी सहरिया आदिवासियों के हक अधिकार पर डाका नहीं डालने दिया जाएगा.
ओतार भाई सहरिया ने कहा कि हमे अपने बच्चों को शिक्षित करना है जिससे वे प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल हो सकें व रोजगार प्राप्त कर सकें हमे शिक्षा की अलख जगाये रखनी होगी .
कल्याण आदिवासी ने सभी से शोषण दमन के विरुद्ध एकजुट होकर आंदोलित रहने कि अपील की
महा पंचायत में संजू आदिवासी , बबलू आदिवासी , परमाल आदिवासी , मोहरसिंह आदिवासी , रत्ती आदिवासी , ऊधम आदिवासी , सखी आदिवासी , देवीलाल आदिवासी , सीता आदिवासी ने समाज सुधारक विचार रखे जिनका सभी ने करतल ध्वनी से स्वागत किया

*नवबर्ष पर आयोजित महा पंचायत में सहरिया क्रांति ने लिए से संकल्प*
1 दबंग बाहुबलियों द्वारा कब्जाई आदिवासी भाइयों कि सभी जमीने मुक्त कराने पूरे बर्ष अभियान चलेगा
2 साहूकारी कर्ज जाल में फंसकर बंधुआ मजदूरी करने को विवश सहरिया परिवारों का पता लगाकर उन्हें बंधुआ मजदूरी से मुक्त कराने अभियान चलेगा .
3 राशनकार्ड गिरवी रख आदिवासियों के हिस्से का राशन हडपने वाले दबंगों के विरुद्ध अभियान चलाया जाएगा
4 आबकारी विभाग व पुलिस थानों की मिलीभगत से गाँवों में संचालित अवैध शराब व जहरीली शराब की बिक्री पर तत्काल रोक लगवाने गाँव गाँव में प्रदर्शन
5 शिक्षा की अलख जगाने गाँव गाँव जायेंगे सहरिया क्रांति से जुड़े युवा

Leave A Reply

Your email address will not be published.

खाद नहीं मिलने से परेशान किसानों ने एसडीएम के दरबार में लगाई गुहार     |     छत्तीसगढ़ को विकसित बनाने के लिए विभिन्न विभाग बनाएं कार्ययोजना – डॉ गौरव सिंह     |     कलेक्टर गौरव सिंह की सदाशयता,अख्तर हुसैन के उपचारार्थ दी आर्थिक सहायता     |     चुप्पी का फैलना कम ख़तरनाक़ नहीं होता- राजेश बादल     |     21 जून को हर साल दोपहर के 12 बजे परछाई भी साथ छोड़ देती है,कर्क रेखा पॉइंड बना सेल्फी पॉइंट.     |     पीएम श्री शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दीवानगंज में योग कार्यक्रम आयोजित     |     हार थाली में मिलेट्स हों शामिल- उप मुख्यमंत्री श्री शुक्ल     |     पर्यावरण के बीच आंतरिक शांति के लिये हुए इकट्ठा, योग के महत्व को समझा     |     डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने और डिजिटल जिला बनाने के निर्देश     |     भीषण गर्मी में प्यास बुझाने कुएं पर गए युवक का पैर फिसला,कुएं में गिरने से हुई दर्दनाक मौत     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811