Let’s travel together.

बढ़ते ओधोगिक प्रदूषण के बीच रामा उधोग के विस्तार की जनसुनवाई कल

0 193

-ग्रामीणों का मत पहले प्रदूषण पर लगे अंकुश
-प्रबन्धन ने कहा विस्तार से घटेगा प्रदूषण बढ़ेंगे रोजगार

सुरेंद्र जैन धरसींवा

एक तरफ जहां बढ़ते ओधोगिक प्रदूषण से जनता हलाकान है तो वही दूसरी ओर इस बढ़ते प्रदूषण के बीच कल यानी मंगलवार को सुबह 11 बजे से रामा उधोग के विस्तार की जनसुनवाई की तैयारियां लगभग पूर्ण हो चुकी हैं इस संबन्ध में ग्रामीणों का जहां यह मत है कि पहले बढ़ते प्रदूषण पर अंकुश लगे तो वही फेक्टरी प्रबन्धन का कहना है कि विस्तार से प्रदूषण घटेगा ओर रोजगार बढ़ेंगे।


रामा उधोग के विस्तार की यह जनसुनवाई मंगलवार को सुबह 11 बजे से सीएसआईडीसी कार्यालय परिसर सिलतरा फेस टू में होना है फेक्टरी प्रबन्धन द्वारा इसकी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं हालांकि ओधोगिक प्रदूषण झेल रहे अधिकांश गांवो में ग्रामीणों को इस जनसुनवाई की एक दिन पहले तक कोई जानकारी नहीं है क्योंकि अधिकांश जगह मुनादी भी नहीं हुई है बाबजूद इसके जिन ग्रामीणों को कहीं से जानकारी मिली उन्होंने बढ़ते प्रदूषण को लेकर जनसुनवाई में शांतिपूर्ण ढंग से अपना पक्ष रखने का निर्णय लिया है।


इंटुक के ब्लाक अध्यक्ष दुर्गा बंजारे ओर स्थानीय ग्रामीण अमरदास टण्डन का कहना है कि उधोगो का विस्तार हो इसमें कोई परेसानी नहीं किसी को कोई आपत्ति नहीं लेकिन ज्यादातर ओधोगिक इकाइयां बिना ईएसपी यंत्र के प्लांट चलाते हैं और रात रातभर अपनी फेक्ट्रियो की चिमनियों से भारी मात्रा में जहरीला धुंआ छोड़ते हैं जो सांकरा सिलतरा मुरेठी मांढर निमोरा आदि आसपास के गांवो के घरों तक पहुचता है तालाबो के पानी के ऊपर काली परत जमा हो जाती है सुबह ग्रामीण जब तालाबो में नहाते हैं तो प्रदूषण से अक्सर खुजली भी चलती है
पर्यावरण संरक्षण मण्डल में प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए शिकायत करने पर भी कोई प्रभावी कार्यवाही नहीं होती ऐंसे में बढ़ते ओधोगिक प्रदूषण पर अंकुश लगाने के पहले फेक्टरी के विस्तार की जनसुनवाई करना उचित नहीं अब चूंकि जनसुनवाई हो ही रही है तो वह शांतिपूर्ण ढंग से अपना पक्ष रखेंगे और प्रदूषण पर प्रभावी अंकुश की मांग रखेंगे।


ग्रामीणों का यह भी कहना है कि सिलतरा ओधोगिक क्षेत्र के फेस वन में मांढर टाढा मार्ग पर आईओसी प्लांट के समीप स्थित कुछ ओधोगिक इकाइयों की चिमनियों से भारी मात्रा में जहरीला धुंआ निकलने से न सिर्फ सिलतरा बल्कि आसपास के गांवो के लोग भी हलाकान हैं पर्यावरण संरक्षण मण्डल ऐंसे उधोगो पर प्रभावी कार्यवाही करें।

प्रबन्धन का दावा घटेगा प्रदूषण बढ़ेंगे रोजगार

इस संबन्ध में जब रामा उधोग के मेनेजर सन्तोष मिश्रा से बात की तो उनका कहना था कि फेक्टरी का विस्तार जरूर हो रहा है लेकिन इससे प्रदूषण नहीं बढ़ेगा बल्कि प्रदूषण नाम मात्र का होगा साथ ही बर्तमान की अपेक्षा तीस प्रतिशत ओर रोजगार बढ़ेंगे अब देखना यह है कि कल यानी मंगलवार सुबह 11 बजे से सीएसआईडीसी भवन परिसर सिलतरा में रामा उधोग के विस्तार की जनसुनवाई में क्या होता है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

रायसेन किले पर स्थित सोमेश्वर धाम मंदिर में शिव भक्तो ने किया जलाभिषेक     |     किसान की करंट से मौत के मामले में लाइनमैन, हेल्पर और ठेकेदार पर किया प्रकरण दर्ज     |     सी एम राइज साँची में मनाया गुरुपूर्णिमा उत्सव     |     तीन बच्चो का बाप करता था गांव की बेटी को परेशान, पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा जेल     |     काफी समय बाद हुई बरसात से किसानों के होंठो पर आई मुस्कान,धान की रूपाई में जुटे     |     भोपाल विदिशा हाईवे 18 पर स्थित कर्क भी लाल पत्थर से बने चबूतरे हुए क्षतिग्रस्त     |     चांदीपुरा वायरस से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग तैयार: उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल     |     मौसम के बदलते चक्र और प्रदूषण को नियंत्रित करने में सहायक हैं वृक्ष: उप-मुख्यमंत्री श्री शुक्ल     |     गुरू से प्राप्त ज्ञान से जीवन की चुनौतियों का सामना करने का सामर्थ्य प्राप्त होता है: उप-मुख्यमंत्री श्री राजेन्द्र शुक्ल     |     जिला भाजपा कार्यालय में सोशल मीडिया और आईटी सेल की बैठक संपन्न     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811