Let’s travel together.

रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय की ओर से आयोजित विश्वरंग पुस्तक यात्रा पहुंची बम्होरी में

0 188

रायसेन पुस्तक यात्रा टीम द्वारा जर्मन टूरिस्टों और काशी विश्वनाथ से आए साधुओं के दल के साथ साझा की गई पुस्तक यात्रा की विस्तृत जानकारी

सौरभ सोनी बम्होरी रायसेन

रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय, भोपाल की ओर से विश्व रंग के पूर्व जन–जन में पुस्तक संस्कृति की अलख जगाने के लिए 22 से 30 सितंबर 2022 तक “विश्व रंग पुस्तक यात्रा” का आयोजन किया जा रहा है। यह यात्रा 22 सितंबर से प्रारंभ होकर 30 सितंबर के बीच देश के 100 जिलों, 200 विकासखंडों, 500 ग्राम पंचायतों में भ्रमण कर पुस्तक संस्कृति की अलख जगाने का अनूठा कार्य कर रही है। इसी तारतम्य में पुस्तक यात्रा पांचवें दिन रायसेन जिले के विदिशा से पहले स्थित कर्क रेखा पहुंची। जहां पर टीम का स्वागत किया गया।

इस दौरान जर्मनी से आए टूरिस्टों से मुलाकात हुई। टीम ने उनसे चर्चा कर पुस्तक यात्रा की जानकारी साझा की। उन्हें यह जानकर अति प्रसन्नता हुई कि भारत में यह अनूठी पहल रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित की जा रही है। उन्होंने अपने देश में भी इस तरह की पुस्तक यात्रा का आयोजन करने की बात कही। यात्रा टीम गैरतगंज से पहले काशी विश्वनाथ से आ रहे साधुओं के दल वह भी पुस्तक यात्रा से जोड़ा। साधुओं ने आरएनटीयू की इस मुहिम की प्रशंसा की। यहां से टीम अपने अगले पड़ाव बम्होरी पहुंचती है।

बम्होरी के नगर द्वार पर पहुंचते ही टीम का स्वागत किया जाता है। स्वागत उपरांत टीम बम्होरी के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पहुंचती है। यहां पर विद्यालय के शिक्षक और विद्यार्थी टीम का तालियां बजाकर स्वागत करते हैं। यहां पर बतौर मुख्य अतिथि थाना प्रभारी भरत सिंह, विद्यालय के प्राचार्य राजेश कुमार शर्मा, आरएनटीयू के उपकुलसचिव डॉ अनिल तिवारी, आइसेक्ट एजुकेशन सेंटर के संचालक विनोद सोनी विद्यार्थियों से रूबरू होते हैं।

थाना प्रभारी भरत सिंह ने विद्यार्थियों को बताया कि सही मायने में पुस्तकों से ही जीवन प्रारंभ होता है। डिजिटल माध्यम का जरूरत पड़ने पर ही प्रयोग करें। आप न्यूज़पेपर और उसकी संपादकीय अवश्य पढ़ें। विद्यालय के प्राचार्य ने आरएनटीयू की इस पहल की सराहना करते हुए बताया कि विश्वविद्यालय द्वारा भेंट की गई पुस्तकों का ज्ञानार्जन हमारे विद्यार्थी अवश्य करेंगे। जबसे को बताया कि जहां भी अच्छी पुस्तकें मिले उन्हें अवश्य लें और उन्हें जरूर पढ़ें।

इसके उपरांत विद्यालय से पुस्तक यात्रा टीम नगर भ्रमण पर निकलती है। नगरवासी इस अनूठी पहल को देखकर अभिभूत हो जाते हैं। इसके पश्चात विद्यार्थियों और शिक्षकों का दल विद्यालय से रैली के रूप में निकलते हुए बम्होरी थाने परिसर पहुंचता है जहां पर रैली का स्वागत किया जाता है और वहां पर उपस्थित थाना प्रभारी भरत सिंह जी विद्यार्थियों को रोड सेफ्टी, गुड टच बैड टच सहित सामाजिक कार्यों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेने के लिए प्रेरित किया। टीम अगले दिन उदयपुरा हेतु रवाना हो जाती है। कार्यक्रम में बम्होरी के शिक्षकगण, पुलिस प्रशासन, प्रबुद्ध नागरिक और बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित थे।

पुस्तक यात्रा संयोजक डॉ अनिल तिवारी ने विश्वविद्यालय और विश्वरंग की रूपरेखा को विस्तृत रूप से साझा किया। साथ ही बताया कि अब यह पुस्तक यात्रा दिनांक 27 सितंबर 2022 को उदयपुरा के लिए रवाना हो जाएगी। इस अनूठी यात्रा में उनके साथ मंजेश ठाकुर, विजय प्रताप सिंह, उपेंद्र पटने, सिलवानीआईसेक्ट शाखा प्रबंधक श्री भूपेंद्र मुंडेले और किशोर महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं।

इसके उपरांत क्वीज़, स्वरचित कविता, निबंध प्रतियोगिता, चित्रकला और प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। वहीं प्रतियोगिताओं के विजेता प्रतिभागियों को ट्राफी और सर्टिफिकेट से पुरस्कृत भी किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ में अतिथियों को पुस्तकें भेंट की गई और मोमेंटो देकर सम्मानित किया गया।

यह अनूठी पुस्तक यात्रा दिनांक 27 सितंबर को उदयपुरा, 28 सितंबर 2022 को बाड़ी और बरेली, दिनांक 29 सितंबर को बैतूल और अंत में दिनांक 30 सितंबर को औबेदुल्लागंज पहुंचेगी। जिसके बाद रविंद्र भवन भोपाल में समापन समारोह का भव्य आयोजन किया जाएगा।

न्यूज सोर्स-विजय प्रताप सिंह जनसंपर्क अधिकारी रबीन्द्रनाथ टैगोर विश्वविद्यालय

Leave A Reply

Your email address will not be published.

संयुक्त किसान मोर्चा मप्र ने सांसदों को ज्ञापन सौंपा     |     मनरेगा में भृष्टाचार के आरोपों की जांच शुरू     |     किसी अप्रिय घटना के पहले पुलिस ने विक्षिप्त महिला को भेजा भिक्षुक पुनर्वास केंद्र     |     अनियंत्रित बाइक बिजली पोल से टकराई, मोबाइल टावर के पास खंती में गिरी, बाइक सवार युवक की मौत     |     TODAY :: राशिफल शुक्रवार 19 जुलाई 2024     |     बिजली करंट लगने से किसान की मौत, एक घायल लाइनमैन और उसके हेल्पर ने 25 हजार लेकर जोड़े थे बिजली के तार     |     विश्व धरोहर में शामिल साँची में रेलवे स्टेशन पर नही हे ट्रेनों का स्टापेज,पर्यटक होते हे परेशान     |     खेत में दवा छिड़कने नहीं गया तो दलित को जूते में भरकर पिलाई पेशाब, पुलिस बोली-आरोप गलत     |     मुक्तिधाम में टीन शेड नहीं होने से ग्रामीण होते हैं परेशान,शव का दाहसँस्कार     |     उप-मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने “अर्बन मोबिलिटी एंड इमर्जिंग टेक्नोलॉजी” सेमिनार का शुभारंभ किया     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811