Let’s travel together.

सीजिंग की ओट में गुण्डागर्दी,कथित पत्रकार अजयराज सहित 5 पर 420, एससीएसटी दर्ज

0 453

-लोन रिकवरी के नाम पर गुण्डागर्दी
-एक पखबाड़े में वाहन सीजिंग और गुण्डागर्दी के तीन केस सामने आए
– जिले में रिकवरी ओट में गुण्डों के गिरोह सक्रिय
-विधायक ने भी की थी पुलिस थानों से कार्रवाई की मांग

शिवपुरी से संजय बेचैन की रिपोर्ट

जिले में निजी फायनेंस कम्पनियों की ओट में लोगों से गुण्डई के दम पर सरे आम मारपीट कर वाहन सीजिंग करने वालोंं के खिलाफ एसपी राजेश सिंह चंदेल के निर्देश पर पुलिस ने अभियान छेड़ दिया है। पिछले एक पखबाड़े के भीतर वाहन सीजिंग के क्रम में मची इस लूट को लेकर पुलिस के सम्मुख तीन प्रकरण सामने आ चुके हैं। पुलिस ने 22 जनवरी को एक तथाकथित पत्रकार अजय राज सक्सेना, उसके साथी अनुज शर्मा सहित पांच लोगों पर पत्रकारिता की ओट में अवैध रुप से सीजिंग कोराबार चला कर गरीब वाहन कर्जदारों से धोखाधड़ी करने, उनके वाहन छीनने और वाहन मांगने पर मारपीट कर जातिगत तौर पर अपमानित करने के आरोप में जांच उपरांत विभिन्न आपराधिक धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।


पुलिस ने अजय राज सक्सेना, अनुज शर्मा और उनके तीन अन्य साथियों के खिलाफ धारा 323 294, 34, 420 आईपीसी, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति नृसंशता निवारण अधिनियम 1989 की धारा 3(2)द, धारा 3(2)ध और 3(2) (एव्ही)के तहत कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया है। पुलिस अब इनकी गिरफ्तारी के प्रयासों में जुट गई है। अजयराज सक्सेना और उसके साथियों के खिलाफ ग्राम अर्जुनगवां थाना सुरवाया निवासी जगत सिंह आदिवासी पुत्र करन सिंह आदिवासी की शिकायत पर यह मुकदमा दर्ज किया है। टीआई सुनील खेमरिया ने बताया कि उन्होंने खुद जगत सिंह आदिवासी नामक युवक द्वारा एसपी को की गई शिकायत की जांच कर इससे संबंधित साक्षियों के कथन लिए और जांच के आधार पर प्रकरण दर्ज किया है।

2 किश्तें शेष रहने पर बीबी को जलील किया, पति को पीटा, छीन ली थी बाइक

– रोजाना हजारों में बढ़ाता गया जुर्माना, बेच दी बाईक
पुलिस के अनुसार जगत सिंह आदिवासी निवासी अर्जुनगवां ने 19 जनवरी को कोतवाली पुलिस को जो शिकायत दर्ज कराई उसने उस शिकायत में उल्लेख किया कि 5 फ रवरी 2020 को हीरो डीलक्स मोटर साइकिल उसके भाई राय सिंह ने किश्तों पर ली थी। जिसकी 10 किस्तें जमा कर दी थी, मात्र दो किश्तें बकाया रह गई थीं, दिनांक 24 अक्टूबर 2021 को राय सिंह अपनी पत्नी लक्ष्मी को मोटरसाइकिल से लेकर शिवपुरी माधव चौक आया था। यहां फ ाइनेंस कंपनी के कर्मचारी बता कर अजय राय सक्सेना व उसके अन्य साथियों ने उसकी न केवल मोटरसाइकिल छीन ली बल्कि उसकी भाभी को अपमानित कर भाई को पीट डाला जातिगत गालियां भी दीं। उस समय 13000 बकाया जमा करने को कहा। इसके बाद जब फ रियादी 13000 लेकर फ ाइनेंस कंपनी अजयराज के फिजिकल टीवी टावर के पास स्थित दफ्तर गया तो अजय राज सक्सेना ने राशि बढ़ाकर 17000 जमा करने को कहा। और जब आवेदक 17000 जमा करने गया तो उसे 20000 जमा करने को कहा जब आवेदक 20000 जमा करने गया तो 25000 जमा करने को बोल दिया गया। इसके बाद 19 जनवरी 2022 को आवेदक 25000 लेकर फ ाइनेंस कंपनी के कथित दफ्तर जो अजय राय सक्सेना का मकान है, वहां टीवी टावर के पास पहुंचा तो अजय राय सक्सेना व अनुज शर्मा बोले कि मोटर साइकिल बिक चुकी है अब तुम्हें नहीं मिलेगी। फरियादी ने पुलिस को बताया कि जब भी जगत सिंह और उसका भाई बाइक वापस मांगने जाते तो अजय राय सक्सेना और उसके साथी उसे जातिसूचक गालियां देकर धमकाते थे और कहते थे चौगुना जब जुर्माना जमा कर देना होगा वरना गाड़ी भूल जा।

15 जनवरी को भी हुई थी बाईक लूट,दम्पत्ति को बीच बाजार गुण्डों ने पीटा था

हाल ही 15 जनवरी को भी ऐसा ही एक मामला सामने आया था जब फायनेंस कम्पनी का कर्ताधर्ता बता कर तीन लोगों ने सरेआम चौराहे पर बीबी बच्चों सहित बाजार आये ग्रामीण युवक देवेन्द्र गिरी से मारपीट कर उसके बीबी बच्चों को रोता छोड़ उसकी बाईक लूट ली थी। उस समय पुलिस ने लूट का मुकदमा दर्ज नहीं किया था तब भी आरोपियों ने अजय राज सक्सेना के कहने पर ये वारदात करना बताया था।
इसी क्रम में बदरवास में भी नीतेश पुत्र राधेश्याम यादव के साथ भी फायनेंस कॅम्पनी के रिकवरी ऐजेंट बन कर गुण्डों द्वारा बाईक छीनने का केस सामने आया था। इन प्रकरणों को विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी ने सोशल साईट पर दम से उछाला था। पुलिस अधीक्षक केे निर्देश पर अब थानों में इस लूट खसोट के मामलों को गम्भीरता से लिया जा रहा है।

विधायक ने गुण्डागर्दी के खिलाफ चेताया था

कोलारस से भाजपा विधायक वीरेंद्र रघुवंशी ने गत सप्ताह ही अपनी फेसबुक आईडी से एक सूचना जारी की थी। जिले के सभी दोपहिया वाहन फ़ाइनेंस कंपनियों को चेताते हुए कहा था कि दोपहिया ऋ ण लेकर खरीदने वाले गरीब लोगों को एजेंट किश्तों की वसूली कर कंपनी में जमा नहीं करते हैं न ही ऋणी को कोई रसीद दी जाती है।
हितग्राही की मोटरसाइकिल खींच ली जाती है और उससे मनमानी रकम वसूल की जाती है। यह अन्याय है।

सहरिया क्रांति ने की गिरफ्तारी की मांग

सहरिया क्रांति प्रदेश अध्यक्ष औतार भाई आदिवासी ने अपना बयान जारी कर कहा है कि फायनेंस कम्पनियां सहरिया आदिवासियों के साथ अनाचार कर रही हैं उन्हें बेइज्जत करके अवैध तौर पर वाहन सीज कर लेते हैं आज अजयराज नामक व्यक्ति के विरुद्ध पुलिस ने आदिवासी की शिकायत पर जांच के बाद मामला दर्ज किया है ,उसे तत्काल गिरफ्तार किया जाए।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

भोपाल-रायसेन के 61 गांवों में पानी की समस्या हल करने के लिए हलाली समूह जलप्रदाय योजना,74 हजार लोगो के कंठ की मिटेगी प्यास     |     तेंदू पत्ता की तुड़ाई में लगे मजदूर,पत्ते की सुखाई का काम भी जारी     |     यात्री प्रतीक्षालय के पास  बिजली तार टूट कर गिरा,बड़ा हादसा टला     |     बरजोरपुर जोड़ पर  दो कार आपस में टकराई     |     TODAY :: राशिफल रविवार 26 मई 2024     |     सेवा भारती द्वारा स्व विष्णु कुमार जी की जयंती पर रक्तदान शिविर का आयोजन     |     एमपी में गुंडाराज,सियरमऊ पेट्रोल पंप पर गुंडों का हमला,तोड़फोड़ हवाई फायर मालिक को जान से मारने की कोशिश     |     गुजरात के राजकोट में बड़ा हादसा, गेमिंग जोन में लगी भीषण आग, अब तक 24 लोगों की मौत, रेस्क्यू ऑपरेशन जारी     |     नया ट्रक लिया लेकिन काम पर लगाने से पहले 40 श्रद्धालुओं को निशुल्क भेजा वैष्णो देवी     |     शाही खानदान से देश के राजा तक पहुंची चुनावी जंग-अरुण पटेल     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811