Let’s travel together.

एक बार फिर रायसेन जिले की बेटी अंजना यादव ने दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर फहराया तिरंगा

0 217

- Advertisement -

एक साथ 3 चोटियां की फतेह
-माउंट एवरेस्ट बेस कैंप , कलापत्थर ट्रैक और गोकयो पीक पर फहराया भारत देश का तिरंगा

सलामतपुर रायसेन से अदनान खान की रिपोर्ट

रायसेन जिले के सलामतपुर कस्बे से कुछ दूरी पर छोटे से गांव सेमरी की प्रसिद्ध पर्वतारोही अंजना यादव ने एक बार फिर से अपनी पर्वतारोहण की यात्रा को जारी रखते हुए माउंट एवरेस्ट बेस कैंप को फतह किया है।15 अगस्त 2021को बीस हज़ार फिट का फेरा कर अपने देश को गौरान्वित किया है। अंजना यादव ने फिर से एक साथ तीन चोटियां फतेह की है।


भारत के दो पर्वतारोही अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा ने इंटरनेशनल दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट बेस कैंप नेपाल फतह किया। भारत से अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा 16सितंबर को भोपाल से नेपाल जाने रवाना हुए थे। शनिवार को घर वापस आने के बाद उन्होंने बताया कि 33 पर्वतों को पार करके पैदल सैलरी से माउंट एवेरेस्ट बेस कैंप पर फतह किया। उन्होंने 27 सितंबर को माउंट एवरेस्ट बेस कैंप 17598 फिट फतह किया और कलापट्ठर ट्रैक जिसकी ऊंचाई 18192 भी फतह किया। उसके बाद 29 सितंबर को नेपाल की गोक्यो पीक जिसकी ऊंचाई 17929 को फतह किया।

भोपाल शहर से अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा ने माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर भारत का तिरंगा फहराया और नेशनल एंथम के साथ माउंट एवरेस्ट पूरा किया। अमित और अंजना ने बताया कि इस एवरेस्ट पर क्लाइंब के दौरान कोई गाइड नही लिया गया और सेल्फ पूरा माउंट एवरेस्ट बेस कैंप , कलापत्थर ट्रैक और गोकयो पीक खुद गाइड किए। इन दौरान कई मुसीबतों का सामना करना पड़ा। जिनमें लगातार 8 घंटे चढ़ना ,खाने की कमी आदि पर हमारे पर्वतारोही ने हार नहीं मानी। बहुत मेहनत करने के बाद माउंट एवरेस्ट बेस कैंप पर फतह किया। और रायसेन जिले सहित पूरे भारत का गौरव बढ़ाया। मध्यप्रदेश से बेमिसाल भोपाल स्वच्छ अमृत महोत्सव का बैनर लगाते हुए भोपाल को प्रेरणा दिए और 75 वे आजादी के अमृत महोत्सव पर भी उत्साह दिखाया। गोरतलब है कि पर्वतारोही अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा मध्यप्रदेष से पहले भी यूनान पीक, फ्रेंडशिप पीक, पतालसु पीक, परवतरोहण संस्था से बी.एम.सी और कई बेसिक कोर्स माउंटेन फतेह कर चुके हैं। काफी मेहनत के बाद अमित और अंजना ने माउंट एवरेस्ट बेस कैंप चढ़ाई की और उसको भी फतह किया।अंजना यादव और अमित विश्वकर्मा के साथ टीम में बिहार से गोपाल कुमार , प्रिया रानी और अनीशा दुबे भी थी। जो पांच की टीम बनकर माउंट एवरेस्ट को फतह किया। अंजना यादव ने बताया कि जैसे पांच उंगली पंजा बनाता है। वैसे ही पूरे माउंट पीआर एक दूसरे के लिए खरे रहे। हमारी पांचों की टीम ने माउंट एवरेस्ट बेस कैंप फतह किया और देश का गौरव बढ़ाया। हमारी टीम गर्ल्स एंड बॉयज दोनो को बढ़ाती है। ताकि कई बच्चो का सपना साकार हो सके जैसे इस बार तीन लड़कियां और दो लड़कों का ग्रुप बनाकर माउंट ऐवरेस्ट बेस कैंप के साथ कलापत्थर ट्रैक और गोकयो पीक पर भारत का तिरंगा फहराया। उन्होंने सफलता का श्रेय अपने पिताजी आजाद सिंह यादव और मां सुधा यादव व उनके परिवार को दिया है। और जलज चतुर्वेदी, डॉक्टर देवेंद्र सर, पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव , उपाध्याय मध्यप्रदेश अशोक सिंह ने उनका बहुत सहयोग किया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

ग्राम गुलगांव में कलेक्टर के निर्देश की की आबकारी पुलिस ने की कार्रवाई,अवैध शराब को किया जप्त     |     66 बुजुर्गों को कामाख्या शक्ति पीठ असम मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन के लिए हारफ़ूलों से स्वागत कर किया रवाना     |     एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने फूंका सीएम का पुतला:उज्जैन में नाबालिग से गैंगरेप की घटना पर फूटा कांग्रेसियों का गुस्सां     |     खेलो एम पी यूथ गेम्स की मशाल रैली सम्पन्न     |     गांव में शराब बंद करने वनगवा की महिलाओं ने सड़क पर आकर जताया विरोध     |     स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर चौधरी एवं जिला भाजपा अध्यक्ष राकेश शर्मा ने किया प्रबुद्ध जन नागरिकों का शाल श्रीफल के साथ सम्मान     |     पूर्व विधायक शैलेन्द्र पटेल के नेतृत्व पहुंचे राहुल गांधी की सभा में 5000 से अधिक कार्यकर्ता     |     दिवंगत पुलिसकर्मी के परिवारजनों की मदद के लिए आगे आया एसबीआई     |     सवारियां मना करती रहीं लेकिन शराब के नशे मेें धुत्त ड्रायवर ने पलटा दिया ऑटो, पांच घायल     |     TODAY:: राशिफल रविवार 01 अक्टूबर 2023     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811