Let’s travel together.

लगातार बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त

0 46

सांची रायसेन से देवेंद्र तिवारी

रविवार से शुरू हुई लगातार बारिश ने नगर सहित आसपास क्षेत्र में जनजीवन अस्त व्यस्त कर दिया जिससे लोगों को घरों में दुबकने पर मजबूर होना पड़ा ।

जानकारी के अनुसार नगर सहित क्षेत्र में रविवार से शुरू हुई बारिश आज सोमवार को भी जारी रही । लगातार हो रही बारिश से लोगों का जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया लोगों को घरों में दुबकने पर मजबूर होना पड़ा सड़कों पर खचाखच कीचड़ जैसे हालात बन गए । नगर में भी आसपास क्षेत्र में पानी निकासी समस्या के चलते जगह जगह पानी भरा दिखाई देने लगा । इतना ही नहीं सड़कों पर चलना तब और दूभर हो जाता है जब भवन निर्माताओं ने अपने भवनों पर सड़कों पर ही पानी निकासी कर डाली तब लोग खासी परेशानी उठानी पड़ती है बसस्टेंड परिसर में भी जगह जगह पानी गढ्ढों में जमा होने से चलना दूभर हो चुका है वाहनों से उचटने वाले कीचड़ की चपेट में आने से खासी परेशानी होती है हालांकि बसस्टेंड परिसर में नप द्वारा गढ्ढों में थोड़ी बहुत काली चूरी डाल कर औपचारिकता तो पूरी की परन्तु जैसे ही बारिश शुरू हुई वह गढ्ढों की चूरी भी लापता हो गई ।तब शासन की लाखों रुपए कीचड़ की भेंट चढ़ गए। गुलगांव चोराहा जो व्यस्ततम रहता है इस क्षेत्र में भी जगह जगह रुका पानी कीचड का रूप लेकर लोगों की परेशानी का सबब बन गया है साथ ही लगातार मौसम विभाग की भारी बारिश की चेतावनी से भी लोग सहमे दिखाई दे रहे हैं हालांकि कुछ दिन पूर्व ही लोगों के घरों में पानी भर गया था जिससे लोगों को अपने घरों का लाखों रुपए का नुक्सान उठाना पड़ा था इससे लोग उभर भी नहीं पाये थे कि मौसम विभाग की भारी चेतावनी ने सहमा दिया है अब इस क्षेत्र के लोगों को एक बार फिर आशंका बढ़ गई है कही दोबारा फिर लोगों के घरों में पानी न भर जाये ।

नगर के बीचोबीच स्थित मदागन तालाब भी लबालब भर गया है इसकी पार फूटने से क्षेत्र में जलभराव हो जाता है जिससे लोगों के घरों में पानी भर जाता है लोग तालाब की पार फूटने से भी आशंकित हो रहे हैं अस्पताल भवन निर्माण होने से भी तालाब पानी निकासी व्यवस्था चरमरा गई है वैसे भी तालाब के पानी निकासी पानी हेतु पहले ही बहुत छोटी नाली बनाई गई थी जिससे पानी पूरी तरह निकास नहीं हो पाता परन्तु नगर परिषद प्रशासन बेखबर बना हुआ है हालांकि अनेकों बार इस नाले को बड़ा करने का आश्वासन तो मिलता रहा परन्तु हो नहीं सका जिससे लोगों में आशंका बनी रहती है लोगों का लाखों रुपए का सामना ख़राब होने से नुकसान उठाना पड़ता है । नगर में विकास के नाम पर करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी नगर वासियों को मुश्किलें उठाने पर मजबूर होना पड़ता है । विशेष रूप से बारिश में लोगों का जीवन मुहाल हो जाता है नगर में करोड़ों का विकास समझ से परे दिखाई देता है ।यही हाल जनपद पंचायत तथा तहसील सहित अनेक सरकारी दफ्तरों के सामने मचने वाली दलदल का भी बना हुआ है जबकि जनपद पंचायत में आयेदिन बड़े अफसर बैठक लेने आते जाते रहते हैं परन्तु यह समस्या उनकी भी नजर से ओझल रहती है जिसका खामियाजा लोगों को उठाना पड़ रहा है ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

पूर्व सीएम कमलनाथ के घर पहुंची पुलिस की टीम, भाजपा प्रत्याशी ने कमलनाथ के पीए के खिलाफ की शिकायत..     |     राहुल गांधी का हेलिकॉप्टर जैसे ही उतरा, पहुंच गई चुनाव आयोग की जांच टीम…फिर चला तलाशी अभियान     |     शीशे की दीवार-आतंकी जैसा व्यवहार… तिहाड़ में केजरीवाल से मिलकर छलका भगवंत मान का दर्द     |     हरिद्वार: मंदिर में दर्शन करने आए श्रद्धालुओं को पुजारियों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, क्या रही वजह?     |     मनोज तिवारी ने 10 साल में क्या किया? नॉर्थ ईस्ट दिल्ली से टिकट मिलने पर कन्हैया का BJP पर हमला     |     उज्जैन: लाठी, पाइप-सरिया…. जो मिला उससे पीटा, शादी समारोह बना अखाड़ा, बुलानी पड़ी पुलिस     |     केजरीवाल की याचिका पर थोड़ी देर में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, ED की गिरफ्तारी को दी है चुनौती     |     10वीं तक पढ़ाई, 5 से ज्यादा आपराधिक मामले, जानें कौन है सलमान के घर के बाहर फायरिंग करने वाला कालू     |     नेहरू ने म्यांमार को गिफ्ट में दिया कोको द्वीप, अब इस पर चीन का नियंत्रण- बीजेपी नेता का कांग्रेस पर हमला     |     कांग्रेस Vs बीजेपी: सहयोगियों के आगे कौन, कहां झुका? 543 सीटों पर सीट समझौते की 5 अहम बातें     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811