Let’s travel together.

साल का पहला सूर्य ग्रहण आज 30 अप्रैल,कुछ राशियों पर इसका प्रभाव नकारात्मक

0 229

- Advertisement -

हिंदू पंचांग के अनुसार साल, 2022 का पहला सूर्य ग्रहण 30 अप्रैल, शनिवार को लग रहा है. इस बार सूर्य ग्रहण मेष राशि में लगेगा जिसके कारण कुछ राशियों पर इसका प्रभाव नकारात्मक पड़ेगा जबकि कुछ पर इसका प्रभाव सकारात्मक रहेगा. इस दौरान मेष, कर्क, वृश्चिक और धनु राशि के जातकों को सावधान रहने की जरूरत है.
सूर्यग्रहण 30 अप्रैल को आधी रात 12 बजकर 15 मिनट से शुरू होगा और सुबह चार बजकर सात मिनट तक रहेगा. यह आंशिक सूर्यग्रहण होगा. साल का पहला सूर्यग्रहण दक्षिण अमेरिका के दक्षिणी पश्चिमी हिस्से, प्रशांत महासागर, अटलांटिक और अंटार्कटिका में नजर आएगा. भारत में यह सूर्यग्रहण नजर नहीं आएगा, जिसके कारण भारत में सूतक काल मान्य नहीं होगा.

सूर्य ग्रहण धार्मिक दृष्टिकोण से नकारात्मक माना गया है. लेकिन इस दिन जप पूजा आदि करना विशेष फलदायक होता है. सूर्य ग्रहण के दौरान सूर्य भगवान की उपासना और आदित्य हृदय स्त्रोत का पाठ करना चाहिए. इससे जन्म कुंडली में सूर्य की स्थिति मजबूत होती है.कहा जाता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान किए गए पाठ या मंत्र जप का फल कई गुणा बढ़ जाता है. आज के दिन प्रीति योग भी रहेगा. इस दिन शनि जयंती भी है. ऐसे में पवित्र नदी में स्नान करना और दान देना लाभदायक है.
इस बार सूर्य ग्रहण शनिवार के दिन पड़ रहा है. शनिश्चरी अमावस्या पर शनि और सूर्य के इस दुर्लभ संयोग में कुछ उपाय करने से जातक को लाभ हो सकता है. जो लोग शनि की साढे साती और ढैय्या से परेशान हैं, वे सूर्य ग्रहण के दिन शनिदेव पर तेल चढ़ाएं तथा शनि की आराधना करें. साथ ही आज वह अपने पितरों की भी पूजा आराधना कर सकते हैं जिससे घर मे सुख शांति बनी रहेगी।

मेष राशि- इस बार सूर्य ग्रहण का प्रभाव मेष राशि में होगा. जिससे सबसे ज्यादा प्रभावित मेष राशि के जातक होंगे. ऐसे में मेष राशि के जातकों को शत्रुओं से सावधान रहना होगा. इस दौरान मेष राशि के जातकों में आत्मविश्वास भरपूर रहेगा. इस दिन मेष राशि के जातकों को पारिवारिक सुख मिलेगा और मित्रों का सहयोग बना रहेगा. इस राशि के लोगों का मन अशांत रहेगा लेकिन वाणी में सौम्यता बनी रहेगी. मेष राशिवालों की दुर्घटना होने की संभावना है, इसलिए ग्रहण के दौरान यात्रा न करें. ग्रहण काल में गायत्री मंत्र का जाप करें.
कर्क राशि के जातकों के लिए यह एक मुश्किल समय रहेगा. ग्रहण के दौरान चंद्रमा मेष राशि में राहु के साथ मौजूद रहेंगे, जिसके कारण मन में नकारात्मकता की भावना आएगी. बेवजह के खर्चों में वृद्धि होगी. ग्रहण के दौरान कर्क राशि के जातको को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए. ग्रहण के दौरान गायत्री मंत्र का जाप करने से ग्रहण का दोष नहीं लगता है.

वृश्चिक राशि सूर्य ग्रहण के दौरान इस राशि के जातकों को विशेष सावधान रहने की जरूरत है. लड़ाई-झगड़े, विवादों में न पड़े, नहीं तो लेने के देने पड़ सकते हैं.शत्रुओं से विशेष सतर्क रहें, जरा सी लापारवाही के चलते पद प्रतिष्ठा पर आंच आ सकती है. ग्रहण के दौरान खाने-पीने से बिलकुल परहेज करें और गायत्री मंत्र का जाप करें.

धनु राशि के जातक शत्रुओं से दूर रहें. किसी भी तरह की गोपनीय जानकारी को दूसरों से साझा न करें. कार्यों में लापारवाही के चलते कार्यालय में वरिष्ठ अधिकारियों से मतभेद हो सकता है. अतः ग्रहण के दौरान विशेष सावधानी बरतें, जरूरी न हो तो इस समय यात्रा न करें. ग्रहण के दौरान गायत्री मंत्र का जप करते रहें.

Leave A Reply

Your email address will not be published.

हिंदू नया वर्ष के उपलक्ष में सनातन धर्म प्रेमियों ने निकाली विशाल वाहन रैली, भगवामय हुई शहर की सड़कें     |     मुख्यमंत्री ने महाकाल लोक के सेकंड फेज के कार्यों की समीक्षा की     |     महाकालेश्वर मंदिर में आज मंदिर की ध्वजा बदली गई     |     जेसीआई शिवपुरी स्वर्णा द्वारा सफाई कर्मचारियों का सम्मान किया गया     |     आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन के कार्यालय का हुआ उद्घाटन     |     जिस राजा के राज में प्रजा दुखी होती है वाे राजा नरक का अधिकारी हाेता है – रमेश सक्सेना पूर्व विधायक     |     उड़े छप्पर गिरे पोल बिजली आपूर्ति ठप्प,अंधड़ का कहर     |     यूजर्स चार्ज का विरोध,आयुक्त को सौपा ज्ञापन     |     हिंदू नव वर्ष पर कस्बा गोहरगंज ग्राम अमोदा नयापुरा सोडलपुर में निकला पथ संचलन      |     सरकार का शानदार फैसला, ऐसे बचा सकते हैं टेक्स     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811