Let’s travel together.

बेटी के जन्म को उत्सव के रूप में मनाया गृह प्रवेश, ढ़ोल ढमाके बजाकर किया स्वागत

0 396

उपेन्द्र मालवीय औबेदुल्लागंज

अब समाज में भी बेटी के जन्म को लेकर सोच बदलने लगी है। बेटियों को समाज में बोझ समझने की मानसिकता में बदलाव लाने की सकारात्मक पहल ओबेदुल्लागंज में दिखाई दी। औबेदुल्लागंज निवासी प्रिंस कोरानी ने बेटी बचाओ का संदेश देते हुए अपनी बेटी के जन्म लेने पर सारे घर में उत्सव मनाया।

नवजात बेटी अपने घर प्रथम आगमन पर पूरे घर को बंदनवार व फूलों से सजाया गया। ढोल नगाड़े और आतिशबाजी के साथ नाचते गाते सभी लोग बेटी को लेकर घर पहुंचे। घर के द्वार पर ही विधिवत कन्या पूजन हुआ। नवजात बेटी के नन्हें पैरों की छाप निर्मल कपड़े पर महावर लगाकर ली गई। घर को भी आकर्षक रंग बिरंगे गुब्बारों से सजाया। आसपास के सभी लोग इस उत्सव में शामिल हुए। कोरानी परिवार में बेटी के प्रति

इस सम्मान को देखकर उनकी भी आंखें भर आई। इस मौके पर घर की महिलाओं ने भी नई पहल पर खुशी जाहिर कर मंगल गीत गाए और आगे से अपने यहां भी बेटी के जन्म पर बेटे की तरह ही खुशी मनाने का संकल्प लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

मध्यप्रदेश वैश्य महासम्मेलन की महिला इकाई की संभाग प्रभारी बनी डॉ रश्मि गुप्ता     |     उप-मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने “अर्बन मोबिलिटी एंड इमर्जिंग टेक्नोलॉजी” सेमिनार का शुभारंभ किया     |     संयुक्त किसान मोर्चा मप्र ने सांसदों को ज्ञापन सौंपा     |     मनरेगा में भृष्टाचार के आरोपों की जांच शुरू     |     किसी अप्रिय घटना के पहले पुलिस ने विक्षिप्त महिला को भेजा भिक्षुक पुनर्वास केंद्र     |     अनियंत्रित बाइक बिजली पोल से टकराई, मोबाइल टावर के पास खंती में गिरी, बाइक सवार युवक की मौत     |     TODAY :: राशिफल शुक्रवार 19 जुलाई 2024     |     बिजली करंट लगने से किसान की मौत, एक घायल लाइनमैन और उसके हेल्पर ने 25 हजार लेकर जोड़े थे बिजली के तार     |     विश्व धरोहर में शामिल साँची में रेलवे स्टेशन पर नही हे ट्रेनों का स्टापेज,पर्यटक होते हे परेशान     |     खेत में दवा छिड़कने नहीं गया तो दलित को जूते में भरकर पिलाई पेशाब, पुलिस बोली-आरोप गलत     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811