Let’s travel together.

धूमधाम से मनाया जाता है बसंत पंचमी पर माँ विजयासन का जन्मदिवस

0 115

तीन शताब्दी से आस्था का केन्द्र मां विजयासन माता मंदिर

देवेश पाण्डेय सिलवानी रायसेन

एक ऐसा प्रसिद्ध स्थान रायसेन जिले सिलवानी में स्थित है। जहां स्वास्थ्य लाभ एवं मनोकामना दर्शन मात्र से मिल जाती है मन में श्रद्धा और विश्वास हो तो दर्शन मात्र से संतानहीन दंपत्ति को संतान प्राप्त हो जाती है। ऐसा ही प्रसिद्ध स्थान सिलवानी नगर में स्थित है। माँ विजयासन माता का मंदिर जोकि तीन सदी पुराना बताया जाता है। कुछ बर्षो पूर्व इस मंदिर का जीर्णोद्धार एवं माता की सुंदर आकर्षक प्रतिमा एवं शिव परिवार की स्थापना की गई है।
रायसेन जिला मुख्यालय से मात्र 83 किलोमीटर की दूरी पर सिलवानी की घनी आबादी के मध्य स्थापित इस मंदिर का इतिहास उस समय का बताया जाता है जब कि क्षेत्र में वाहन एवं यातायात हेतु यहां के वाशिंदे घोड़ा, बैलगाड़ी आदि संसाधनों का उपयोग करते थे।

बुजुर्ग बताते है कि लगभग तीन शताब्दी पूर्व निकटतम विदिशा जिले के गंजबासौदा नगर के कपूर परिवार माता का भक्त था। परंतु संतानहीन होनेे के कारण प्रायः दुःखी रहता था। तब माँ विजयासन की प्रेरणा से कपूर परिवार की तीसरी पीढ़ी के शिवनंदन कपूर घोड़े की सवारी कर सिलवानी आये तथा माँ विजयासन का मंदिर ढ़ूंढने पर मंदिर नहीं मिला, तब कुछ दिन रूकने पर माँ विजयासन की प्रेरणा से एक कचरे फेंकने के स्थान की सफाई करवाने पर माँ की पांच पिण्डियां प्रकट हुई उनके दर्शन मात्र से शिवनंदन कपूर के घर में पुत्र की किलकारियां गूंजी। तब उस स्थान पर चबूतरा बनबाकर कपूर खानदान के साथ अन्य धार्मिक अस्तिकों ने भी माँ की पूजा अर्चना आरंभ कर दी। कपूर परिवार की तीसरी पीढ़ी के बारिस बद्रीनारायण कपूर धर्मपत्नि कृष्णावती द्वारा बसंत पंचमी 23 जनवरी 1988 को चबूतरे का जीर्णोद्वार एवं मढ़िया की स्थापना की गई थी तब से अनवरत बसंत पंचमी को माँ विजयासन का जन्मदिवस श्रद्धालुओं द्वारा धूमधाम से मनाया जाता है।


भक्तों की श्रद्धा और आस्था तथा उत्साह के चलते छोटी सी मढ़िया बड़े मंदिर का रूप ले चुकी है। भक्तों द्वारा जनसहयोग से राशि एकत्रित कर मंदिर को गुजरात के कुशल कारीगरों द्वारा आकर्षक नक्काशी कर सुंदर एवं कलात्मक मंदिर बनाया गया है प्रत्येक दिन प्रातः एवं सायंकाल को भक्तों द्वारा माँ की आरती श्रद्धापूर्वक की जाती है। आरती में बड़ी संख्या में भक्तगण उपस्थित रहते है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

राजेश बादल की नई किताब::“यह अंतिम था, जिसे पोर्टल प्रकाशित करने का साहस नहीं दिखा सका और मैंने यह कॉलम बंद कर दिया।“     |     क्षेत्र मे दहशत फैलाने वाले कुख्यात शराब तस्कर व आदतन आरोपी  NSA में गिरफ्तार कर केन्द्रीय जेल भोपाल भेजा गया     |     कुंडलपुर में आचार्य पदारोहण न भूतों न भविष्यति,एक नहीं दो दो मोहन बने साक्षी     |     सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन     |     प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दिल्ली की तीन सदस्य टीम का निरीक्षण     |     सप्त दिवसीय हनुमत शिव पंचायत, प्राण प्रतिष्ठा एवं राम कथा प्रवचन का आयोजन,कलश यात्रा निकली     |     नवरात्र के आखिरी दिन मंदिरों में भक्तों की रही भीड़     |     सवारी ऑटो को एसडीएम के जीप चालक ने मारी टक्कर, एक की मौत,चैत्र दुर्गा माता की अष्टमी पर पूजन करने रायसेन आया था आदिवासी परिवार     |     श्रीरामनवमी पर शहर में निकली जवारो की शोभा यात्रा, मिश्रा तालाब पर किया गया विसर्जन     |     दैवियां हमारे जीवन में नौ दिन के लिए नहीं बल्कि सदा के लिए परिवर्तन चाहती हैं- ब्रह्माकुमारी रुक्मिणी दीदी     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811