Let’s travel together.

मैं तो तन्हा ही निकला था घर से, मगर  इक मुसाफ़िर मिरा हमसफ़र हो गया”- ताबिश नैयर

0 430

ऊर्दू साहित्यिक संस्था अदबी इदारे सलामी द्वार काव्य गोष्ठी का आयोजन

धीरज जॉनसन दमोह

दमोह जिले की ऊर्दू साहित्यिक संस्था अदबी इदारे सलामी की एक काव्य गोष्ठी नशिस्त का आयोजन हुआ  इस संस्था के संस्थापक रहे प्रसिद्ध शायर नैयर दमोही जिन्होंने दमोह की ऊर्दू शायरी को ना सिर्फ हिंदुस्तान तक सीमित रखा बल्कि अंतराष्ट्रीय मंचो पर भी मध्यप्रदेश को पहचान दिलाई, के द्वारा स्थापित ऊर्दू साहित्यिक संस्था  इदारे सलामी के शायरों ने बीती रात एक तरही काव्य गोष्ठी नशिस्त में शायरो ने एक से बढ़कर एक गज़लें सुनाई और ख़ूब वाहवाही लूटी।
कार्यक्रम में कोविड प्रोटोकॉल के तहत संस्था के शायरों ने ही हिस्सा लिया।  गोष्ठी संस्था के अध्यक्ष शायर मंज़र दमोही के निवास पर आयोजित हुई जिसमें बज़्म के सभी शायरों ने तरही मिसरा ” इक मुसाफ़िर मिरा हम सफर हो गया ” पर अपना कलाम सुनाया जिसमें शायर राशिद दमोही ने कहा ” माँ के कदमों में ख़म जिसका सर हो गया। समझो जन्नत में उसका भी घर हो गया”। वहीं शायर अहसन दमोही ने वर्तमान के हालात को अपनी शायरी में इस अंदाज़ से बयां किया के
उपस्थित लोगों की जमकर वाहवाही लूटी उन्होंने बड़े सादगी भरे लहज़े में कहा “जब से रहबर बना है मिरा राहज़न, ज़िंदगी के लिए दर्दे सर हो गया” इसके अलावा ऊर्दू शायरी के माध्यम से अपने पिता शायर नैयर दमोही की तरह दमोह और मध्यप्रदेश का नाम राष्ट्रीय स्तर पर रौशन कर रहे शायर ताबिश नैयर ने अपने सुरीले अंदाज़ में अपनी गज़ल पेश करते हुए कहा “मैं तो तन्हा ही निकला था घर से मगर ,इक मुसाफ़िर मिरा हमसफ़र हो गया।
शायर कबीर अख़्तर दमोही ने पढ़ा “सच जो बोला क़लम उसका सर हो गया , बोलकर झूँठ वो ताजवर हो गया। शायर मंज़र दमोही ने अपनी ग़ज़ल में कहा “आप जब से हुये मेरे घर जलवागर,नूर से मेरा मामूर घर हो गया “महफ़िल की अध्यक्षता कर रहे साजिद दमोही ने अपनी ग़ज़ल में ज़िंदगी की असल सच्चाई बयाँ करते हुए कहा
“जब जवानी से आया ज़ईफ़ी तरफ़ ,मुझको साजिद यकीं मौत पर हो गया। मुशायरे का सफल संचालन मंज़र दमोही ने किया

न्यूज स्रोत:डॉ अनिल जैन

Leave A Reply

Your email address will not be published.

खाद नहीं मिलने से परेशान किसानों ने एसडीएम के दरबार में लगाई गुहार     |     छत्तीसगढ़ को विकसित बनाने के लिए विभिन्न विभाग बनाएं कार्ययोजना – डॉ गौरव सिंह     |     कलेक्टर गौरव सिंह की सदाशयता,अख्तर हुसैन के उपचारार्थ दी आर्थिक सहायता     |     चुप्पी का फैलना कम ख़तरनाक़ नहीं होता- राजेश बादल     |     21 जून को हर साल दोपहर के 12 बजे परछाई भी साथ छोड़ देती है,कर्क रेखा पॉइंड बना सेल्फी पॉइंट.     |     पीएम श्री शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दीवानगंज में योग कार्यक्रम आयोजित     |     हार थाली में मिलेट्स हों शामिल- उप मुख्यमंत्री श्री शुक्ल     |     पर्यावरण के बीच आंतरिक शांति के लिये हुए इकट्ठा, योग के महत्व को समझा     |     डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने और डिजिटल जिला बनाने के निर्देश     |     भीषण गर्मी में प्यास बुझाने कुएं पर गए युवक का पैर फिसला,कुएं में गिरने से हुई दर्दनाक मौत     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811