Let’s travel together.

तिल द्वादशी 29 जनवरी:: पूजा विधि और उपाय

0 478

29 जनवरी, शनिवार को माघ मास के कृष्ण पक्ष की द्वादशी है। इसे तिल द्वादशी कहते हैं। इस दिन तिल का सेवन, दान और हवन करने की परंपरा है। पुराणों में द्वादशी तिथि पर भगवान विष्णु की पूजा करने का विधान बताया गया ।

नारद और स्कंद पुराण के मुताबिक माघ महीने की द्वादशी तिथि  पर तिल दान करने का भी महत्व बताया गया है। इस बार द्वादशी और प्रदोष व्रत एक ही दिन होने से शनिवार को भगवान विष्णु और शिवजी की पूजा से मिलने वाला पुण्य और बढ़ जाएगा। पुरी के ज्योतिषाचार्य डॉ. गणेश मिश्र के मुताबिक इस द्वादशी तिथि पर सूर्योदय से पहले उठकर तिल मिला पानी पीना चाहिए। फिर तिल का उबटन लगाएं। इसके बाद पानी में गंगाजल के साथ तिल डालकर नहाना चाहिए। इस दिन तिल से हवन करें। फिर भगवान विष्णु को तिल का नैवेद्य लगाकर प्रसाद में तिल खाने चाहिए। इस तिथि पर तिल दान करने अश्वमेध यज्ञ और स्वर्णदान करने जितना पुण्य मिलता है।

तिल द्वादशी पर इस विधि से करें पूजा
– द्वादशी तिथि पर सूर्योदय से पहले तिल मिले पानी से नहाने के बाद भगवान विष्णु की पूजा करें। पूजा से पहले व्रत और दान करने का संकल्प लें।
– फिर ऊँ नमो भगवते वासुदेवाय मंत्र का जाप करते हुए पंचामृत और शुद्ध जल से विष्णु भगवान की मूर्ति का अभिषेक करें।
– इसके बाद फूल और तुलसी पत्र फिर पूजा सामग्री चढ़ाएं। पूजा के बाद तिल का नैवेद्य लगाकर प्रसाद लें और बांट दें।
– इस तरह पूजा करने से कई गुना पुण्य फल मिलता है और जाने-अनजाने हुए हर तरह के पाप खत्म हो जाते हैं।

तिल द्वादशी का उपाय
शिवजी मंदिर जाकर ऊँ नम: शिवाय मंत्र बोलते हुए शिवलिंग पर जल और दूध से अभिषेक करें। फिर बिल्व पत्र और फूल चढ़ाएं। इसके बाद काले तिल चढ़ाएं। इसके बाद शिव मूर्ति या शिवलिंग के नजदीक तिल के तेल का दीपक लगाएं। शिव पुराण का कहना है कि ऐसा करने से हर तरह की परेशानियां और बीमारियां खत्म होने लगती है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.

खाद नहीं मिलने से परेशान किसानों ने एसडीएम के दरबार में लगाई गुहार     |     छत्तीसगढ़ को विकसित बनाने के लिए विभिन्न विभाग बनाएं कार्ययोजना – डॉ गौरव सिंह     |     कलेक्टर गौरव सिंह की सदाशयता,अख्तर हुसैन के उपचारार्थ दी आर्थिक सहायता     |     चुप्पी का फैलना कम ख़तरनाक़ नहीं होता- राजेश बादल     |     21 जून को हर साल दोपहर के 12 बजे परछाई भी साथ छोड़ देती है,कर्क रेखा पॉइंड बना सेल्फी पॉइंट.     |     पीएम श्री शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय दीवानगंज में योग कार्यक्रम आयोजित     |     हार थाली में मिलेट्स हों शामिल- उप मुख्यमंत्री श्री शुक्ल     |     पर्यावरण के बीच आंतरिक शांति के लिये हुए इकट्ठा, योग के महत्व को समझा     |     डिजिटल लेन-देन को बढ़ावा देने और डिजिटल जिला बनाने के निर्देश     |     भीषण गर्मी में प्यास बुझाने कुएं पर गए युवक का पैर फिसला,कुएं में गिरने से हुई दर्दनाक मौत     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811