Let’s travel together.

प्रधानमंत्री को बिठूर की शौर्य गाथा वाली शॉल भेंट करके सीएम ने किया स्वागत

0 796

कानपुर। आइआइटी के दीक्षा समारोह और मेट्रो में पहले यात्री के रूप में सफर करने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी निराला नगर के जनसभा स्थल पहुंचे। मंच पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिठूर की शौर्य गाथा वाली शॉल और कानपुर मेट्रो का स्मृति चिह्न भेंट करके प्रधानमंत्री का स्वागत किया। उनके साथ केंद्रीय आवसन एवं शहरी कार्य तथा पेट्रोलियम मंत्री हरदीप सिंह पुरी, डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और प्रदेश के औद्याेगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने भी स्वागत किया। इससे पहले प्रधानमंत्री ने यहां पर सबसे पहले विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से बातचीत शुरू की।

लाभार्थियों के पास जाकर वह एक अभिभावक और संरक्षक की तरह लाभर्थियों से मिले और बड़ी तल्लीनता के साथ उनकी बात सुना और समझा। एक के बाद एक लाभार्थियों ने प्रधानमंत्री के सामने अपनी बात रखी और प्रधानमंत्री ने सभी को सफलता की बधाई दी और संकल्प कराया। लाभार्थियों के आग्रह पर प्रधानमंत्री ने सेल्फी भी ली। इसके बाद प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री ने जनसभा स्थल पर मंच के पीछे बने सेफ हाउस में जनप्रतिधियों से वार्ता की। बारिश की वजह से बनाए गए वाटर प्रूफ पंडाल में लोगों की भीड़ प्रधानमंत्री का संबोधन सुनने का इंतजार कर रहे हैं। प्रधानमंत्री मंच पर आकर 12,600 करोड़ रुपये की कानपुर मेट्रो और बीना-पनकी पाइपलाइन परियोजनाओं का लोकार्पण करेंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे।

आइआइटी कानपुर के दीक्षा समारोह में डिग्रीधारी मेधावियों को कंफर्ट की बजाए चैलेंज चुनने का मंत्र देने के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आइआइटी मेट्रो स्टेशन पहुंचे और यहां मेट्रो एमडी कुमार केशव ने प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का स्वागत किया। इसके बाद प्रधानमंत्री पहले यात्री बनकर मेट्रो ट्रेन में सवार हुए और गीतानगर स्टेशन तक सफर पूरा कर चुके हैं।

गीतानगर स्टेशन पर मेट्रो ट्रेन से उतरकर व्यवस्थाओं का अवलोकन किया और बाहर आकर हाथ हिलाकर अभिवादन किया। यहां पर मौजूद फ्लीट और कड़ी सुरक्षा के बीच वह कार से निराला नगर मैदान में आयोजित होने वाली जनसभा में शामिल होने के लिए रवाना हो गए। इससे पहले वह आइआइटी स्टेशन पर प्रदर्शनी के माध्यम से कानपुर मेट्रो का अवलोकन किया और क्यूआर कोड टिकट लेकर मेट्रो में सवार हुए थे

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान के दीक्षा समोराह में बतौर मुख्य अतिथि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी शिरकत कर चुके हैं। आइआइटी निदेशक अभय करींदकर ने स्मृति चिह्न भेंट करके उनका स्वागत किया।प्रधानमंत्री ने कहा कि ये दौर 21वीं सदी पूरी तरह टेक्नोलाजी वाला है, यह अलग अलग क्षेत्रों में अपना दबदबा बना रहा है। बिना टेक्नोलाजी के जीवन अधूरा है, अब जीवन और टेक्नोलाजी के स्पर्धा का युग है। आइअाइटी टैलेंट और टेक्नोलाजी की इक्यूबेशन सेंटर हैं।

प्रधानमंत्री ने सभागार में मौजूद डिग्री हासिल करने वाले छात्रों से कहा कि मेरा आप पर भरोसा है। और मै आज इतनी बातें कह रहा हूं, इतनी चीजें कर रहा हूं तो मुझे उनमें आपका चेहरा नजर आता है। आज देश में एक के बाद एक बदलाव हो रहे हैं। उनके पीछे आपका ही चेहरा नजर आता है। आज जो देश लक्ष्य प्राप्त कर रहा है, उसकी शक्ति आपसे ही मिले। आप ही हैं, जो करेंगे और आपको ही करना है। अनंत संभावनाएं आपके लिए ही हैं, आपको ही साकार करना है। देश जब आजादी के 100 वर्ष मनाएंगा। उस सफलता में आपके पसीने की महक होगी आपके परिश्रम की पहचान होगी। आप भली प्रकार जानते हैं, कि आपका काम आसान करने के लिए किस तरह से काम किया गया। पिछले सात सालों में कई कार्यक्रम शुरू किए गए। देश युवाओं के लिए नये रास्ते बना रहा है। साथियों एक और जरूरी बात जो हमे याद रखनी है। आज से शुरू हुई यात्रा में सहूलियत के लिए बहुत शार्टकट बताएंगे। मै आग्रह करूंगा कन्फर्ट के बजाय चैलेंज जरूर चुनना। क्योंकि आपको चाहे या न चाहें, जीवन में चुनौतियां आनी ही आनी हैं। आप अपने कैरियर में सफल हों, आपकी सफलता देश की सफलता बने। इसी के साथ अपनी बात समाप्त करता हूं।

प्रधानमंत्री ने रिमोट का बटन दबाकर आइआइटी कानपुर के डिजीटिल डिग्री ट्रांसमिशन का शभांरभ किया। इसके बाद उन्होंने भौतिकी वैज्ञानिक प्रो. रोहिणी एम गोडबोले, इंफोसिस के सह संस्थापक सेनापथी क्रिस गोपालकृष्णन और शास्त्रीय गायक पद्मश्री पंडित अजय चक्रवर्ती को मानद उपाधि प्रदान की

उनके साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का स्वागत किया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कानपुर पहुंचने पर खराब मौसम से रूट प्लान में बदलाव हो गया। चकेरी एयरपोर्ट से हेलीकाप्टर की बजाए प्रधानमंत्री को कड़ी सुरक्षा के बीच लेकर फ्लीट सड़क मार्ग से आइआइटी के लिए रवाना हुई।

प्रधानमंत्री को चकेरी एयरपोर्ट पर प्लेन से उतरने के बाद हेलीकाप्टर से आइआइटी के लिए रवाना होना था। आइआइटी के दीक्षा समारोह में शामिल होकर भावी इंजीनियरों को संबोधित करेंगे। यहां से निकलकर वह कानपुर के बहुप्रतीक्षित सपने मेट्रो पर सफर करके आम जन को समर्पित करेंगे। इसके बाद दोपहर में निराला नगर मैदान से मेट्रो और मल्टीप्रोडेक्ट पाइप लाइन का लोकार्पण करेंगे और केंद्र व प्रदेश सरकार की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से रू-ब-रू होंगे। यहां पर वह जनसभा को संबोधित करेंगे। उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे। कमिश्नरेट पुलिस ने वीवीआइपी की सुरक्षा का पूरा प्लान बनाकर तीनों कार्यक्रम स्थलों पर कड़े इंतजाम किए हैं

आइआइटी कानपुर : भारतीय प्रौद्योगिक संस्थान में दीक्षा समारोह का मंच तैयार है, यहां पर निदेशक अभय करींदकर समेत सभी शिक्षाविद् और छात्रों के अलावा प्रमुख सम्मानितजन पहुंच चुके हैं। कार्यक्रम में प्रधानमंत्री का इंतजार हो रहा है, कुछ ही देर में उनका हेलीकाप्टर आइआइटी के हेलीपैड पर उतरेगा। यहां से वह सीधे दीक्षा समारोह में पहुंचेंगे और विशिष्ट हस्तियों को मानद उपाधि और पांच विद्यार्थियों को मेडल प्रदान करेंगे। ये तीन प्रसिद्ध हस्ती भौतिकी वैज्ञानिक प्रो. रोहिणी एम गोडबोले, इंफोसिस के सह संस्थापक सेनापथी क्रिस गोपालकृष्णन और शास्त्रीय गायक पद्मश्री पंडित अजय चक्रवर्ती हैं। आइआइटी प्रशासन की ओर से अतिथियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए बायो-बबल तैयार किया गया है। कार्यक्रम में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बतौर विशिष्ट अतिथि होंगे।

आइआइटी से मोतीझील तक यात्रा : आइआइटी के दीक्षा समोरह के बाद प्रधानमंत्री मेट्रो स्टेशन पहुंचेंगे। कानपुर में दो साल में बनकर तैयार हुए मेट्रो को जनता को सौंपेंगे। वह मेट्रो ट्रेन के पहले यात्री बनकर आआइटी स्टेशन से गीतानगर स्टेशन और फिर वापस आइआइटी स्टेशन का सफर करेंगे। उनके आगमन पर आइआइटी से गीतानगर स्टेशन के बीच सभी स्टेशनों पर खास सजावट की गई है। वहीं उनकी यात्रा के दौरान जीटी रोड पर यातायात भी बंद रहेगा। वह मेट्रो में सफर के दौरान आसपास के शहर का विकास भी देख सकते हैं। प्रधानमंत्री के आगमन के पहले कानपुर मेट्रो के एमडी कुमार केशव ने कार्यक्रम स्थल पर हवन-पूजन शुरू कर दिया है।

निराला नगर मैदान पर रैली : कानपुर के निराला नगर स्थित मैदान में जनसभा का आयोजन किया गया है। मेट्रो में सफर करने के बाद आइआइटी से हेलीकाप्टर में सवार होकर प्रधानमंत्री निराला नगर मैदान पहुंचेंगे। यहां पर हेलीपैड पर उतरने के बाद वह सीधे जनसभा के मंच पर जाएंगे। मंच पर स्वागत के बाद वह कानपुर को कानपुर में 12,600 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का लोकार्पण की सौगात देंगे। इसमें कानपुर मेट्रो रेल का तोहफा देने के साथ भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन लिमिटेड की 1,524 करोड़ रुपये की 356 किमी लंबी मध्य प्रदेश के बीना से कानपुर के पनकी तक मल्टीप्रोडक्ट पाइपलाइन का लोकार्पणक करेंगे। इसके साथ ही वह यहां पर 25 लाभार्थियों से संवाद करेंगे और सरकार के कामकाज के बारे में पूछेंगे। योजनाओं का लाभ लेने में कोई दिक्कत तो नहीं आई, यह भी जानेंगे। उनसे मिलने वाले लाभार्थियों की कोरोना संबंधी जांच भी कराई गई है। इसके बाद वह जनसभा को संबोधित करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आगरा में यात्रियों से भरी नाव चंबल नदी में पलटी,सभी यात्रियों को सुरक्षित निकाला गया     |     देश मे अमन चैन की दुआओं के साथ हुई ईद की नमाज     |     उचेर सांची रोड पर पलटी बुलेरो वाहन दो घायल     |     विदेशी पर्यटकों को रेल टिकट आरक्षित करने की सुविधा उपलब्ध कराने हेतु सीनियर डीसीएम के नाम सौंपा ज्ञापन      |     पश्चिम बंगाल के न्यू जलपाई गुडी रेलवे स्टेशन के पास में कंचन जंगा एक्सप्रेस और मालगाड़ी टकराई,6 की मौत कई घायल     |     प्राथमिक और माध्यमिक शालाओं में हेंडवाश यूनिट पुरी तरह क्षतिग्रस्त     |     पैसों के लेन देन को लेकर दो लोगों में मारपीट,एक गंभीर रूप से हुआ घायल     |     उप मुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने प्रदेशवासियों को ईद-उल-अज़हा की दी बधाई     |     TODAY :: राशिफल सोमबार 17 जून 2024     |     बिलखिरिया थाने में पदस्थ प्रधान आरक्षक SDM-SDOP को सड़क किनारे घायल मिले,डॉक्टर्स ने मृत घोषित किया     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811