Let’s travel together.

कैरेक्टर को अपने अंदर पूरी तरह से ढालना एक अच्छे एक्टर की पहचान होती है -आरती शर्मा फ़िल्म एवं टीवी अभिनेत्री

0 643

(सुनील सोन्हिया द्वारा लिया गया विशेष साक्षात्कार)

 

अभिनय करने का मतलब सिर्फ स्क्रिप्ट में लिखे डायलॉग बोलना नहीं होता है जब किसी करैक्टर का एक्टिंग किया जाता है तो उस करैक्टर के तरह दिखना उसी करैक्टर के तरह बॉडी-लैंग्वेज और एक्सप्रेशन इत्यादि चीजों पे ध्यान देना होता है |

 

अगर आप इसी व्यक्ति के ऊपर लिखी कहानी के किरदार की एक्टिंग करते हैं तो उस व्यक्ति के व्यक्तित्व को अपने अंदर पूरी तरह से ढालना एक अच्छे एक्टर की पहचान होती है।

जब भी आप कोई डायलॉग की प्रैक्टिस कर रहे तो उसे आप अलग-अलग Variation में Try करे। मतलब उसे ऊंचा बोल सकते हैं या उसे धीरे से बोल सकते हैं। ऐसे करके आप उस डायलॉग सीन को और बेहतर कर सकते हैं और आपको समझ में आएगा कि आवाज को कब ऊंचा करना है कब नीचे करना है।

डायलॉग्स बोलते समय आपकी सांस कंट्रोल में होना जरूरी है क्योंकि अगर आपकी सांस कंट्रोल में नहीं रहेगी तो शायद आप ठीक से डायलॉग नहीं बोल पाएंगे। जब आप कोई डायलॉग बोलते हैं तो ऐसा नहीं होना चाहिए कि पहले तो आपने अच्छे से जोर से बोला और आप आगे जाते-जाते आपकी आवाज एकदम कम हो गई।

आपका आखिरी शब्द भी ठीक रूप से सामने वाले को समझ में आना चाहिए। कहीं बार कोई डायलॉग या कोई सीन आपने देखा होगा कि धीमी आवाज में शुट होता है या कोई जोरो की आवाज में शुट होता है। Dialogues की Practice के लिए आप अपने हाथ को चेहरे के सामने रखे और कोई डायलॉग लेकर उसे बोले।फिर आप अपने चेहरे से हाथ धीरे धीरे पीछे (दूर) करते रहे और अपनी आवाज को बढ़ाते जाइए। हाथ को पास लाइए आवाज को कम करते रहे। आप ऐसा करने लगेंगे तो आपको समझ में आएगा कि आपको कितनी दूरी में कितनी जोर से बोलना है या कितने धीरे बोलना है। ये कहना है सुप्रसिद्ध फ़िल्म एवम टीवी अभिनेत्री आरती शर्मा भोपाल की रहने वाली हैं आरती शर्मा ने पिछले 4 वर्ष में फिल्म जगत में एवं टीवी जगत में अभिनय के क्षेत्र में अपनी एक अलग पहचान बनाई है अभी हाल ही में धूम मचा रही वेब सीरीज आश्रम 3 में भी उन्होंने अभिनय किया है वही उनकी आयुष्मान खुराना के साथ फिल्म डॉक्टर जी आने वाली है इसके अलावा आरती ने 8 -18 वेब सीरीज और लगभग 10 से ज्यादा शॉर्ट मूवी में भी अभिनय किया है दो टीवी सीरियल सब झोल झाल है एवम दम लगा के हंसना में लीड किरदार निभाया है इसके अलावा दास्ताने जुर्म क्राइम सीरियल में भी अभिनय किया है दूरदर्शन के विज्ञापनों में भी अभिनय करने वाली आरती ने बताया कि उन्हें बचपन से ही अभिनय डांस एवं गायन का शौक था स्कूल स्तर पर भी  सांस्कृतिक सचिव का दायित्व निभाती रही हैं परंतु विवाह के बाद पारिवारिक जिम्मेदारियों के चलते उन्हें अपने यह शौक को तिलांजलि देनी पड़ी पारिवारिक जिम्मेदारियों को पूर्ण करने में उन्होंने अपने पति को सहयोग दिया और लगभग 15 वर्ष जॉब किया जॉब करने के दौरान ही उन्हें एक वेब सीरीज  आल्हा रामायण में अभिनय करने का मौका मिला जिसकी उन्होंने ओरछा में 27 दिन  शूटिंग की और इसके पश्चात  उन्होने अपने अभिनय के शौक को पूरा करने हेतु ठान लिया।

आरती का कहना है उनके अभिनय को देखते हुए उनके पति दोनों बच्चे एवं बहन ने उन्हें बहुत सपोर्ट किया फिर उन्होंने फिल्मी दुनिया में कदम रख ही दिया सुप्रसिद्ध फिल्म अभिनेता जावेद खान ने भोपाल में अपनी एक्टिंग क्लासेस प्रारंभ उसमें आरती ने 3 माह का कोर्स किया साथ ही रंगमंच के जाने-माने निर्देशक इरफान सौरभ के साथ  थिएटर भी किया उनके साथ एक प्ले तात्या टोपे में झांसी की रानी का रोल किया जिसे लोगों ने बहुत  सराहा ,आरती को सभी तरह के रोल करना पसंद है चाहे वह कॉमेडी हो या गंभीर किस्म के फिलहाल उन्हें ज्यादातर रोल मां के मिल रहे हैं जिसमें उन्हें गंभीरता प्रकट करनी पड़ती है वह चाहती हैं कि वह निर्देशन के क्षेत्र में अपने जलवे दिखाए उनके अंदर का कलाकार उन्हे निर्देशन की ओर ले जाना चाहता है श्रीदेवी को अपना आदर्श मानने वाली आरती अजय देवगन एवं अक्षय कुमार की एक्टिंग से बहुत प्रभावित हैं इन दिनो भोपाल में बहुत सारा काम चल रहा है लेकिन वे इससे संतुष्ट नहीं है क्योंकि बड़ी कास्ट मुंबई से ही चयन होकर आती है भोपाल के कलाकारों को छोटे-मोटे रोल करके ही संतुष्ट होना पड़ रहा है मध्यप्रदेश में ढेर सारे कलाकार हैं तो निर्माता-निर्देशक को यही के कलाकारों को लेकर फ़िल्म निर्माण करना चाहिए , द नेशनल सिने वर्कर्स यूनियन मध्य प्रदेश से  सक्रिय रुप से जुड़ी हैं प्रदेश अध्यक्ष श्री दादोरिया जी के मार्गदर्शन में नवोदित फिल्म कलाकारों को  सलाह  मार्गदर्शन प्रदान करती रहती हैं और वरिष्ठ कलाकारों से अभिनय के गुण सीखती रहती हैं युवा कलाकारों हेतु उनकी राय है कि युवाओं को धैर्य रखना चाहिए और अभिनय के लिए थियेटर और वर्कशॉप  जरूर अटेंड करना चाहिए ताकि अभिनय की बारीकियों से अवगत हो सकें।

POST BY-DEEPAK KANKAR

Leave A Reply

Your email address will not be published.

24 घंटे में परमाणु हथियारों की पूरी दुनिया में बढ़ी हलचल, कई देश कर रहे तबाही का रिहर्सल     |     UP में पहले चरण की वोटिंग ने बढ़ाई बीजेपी की टेंशन, दूसरे राउंड के लिए बनाई ये रणनीति     |     अनिकेत ठाकुर की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के एक माह बाद भी नही पकड़े गये हत्यारे,परिजनों ने DFO को दिया ज्ञापन     |     इस बार हनुमान जन्मोत्सव पर वन रहा अद्भुत संयोग, कई वर्षों बाद मंगलवार को पड़ेगी जयंती     |     TODAY :: राशिफल मंगलवार 23 अप्रेल 2024     |     विदिशा संसदीय क्षेत्र में 13 अभ्यर्थी चुनाव मैदान में नाम वापसी के अंतिम तीन अभ्यर्थियों ने वापस लिया नाम निर्देशन पत्र     |     हनुमान जयंती पर विशेष:: घोड़े पर सवार होकर आए थे धरसीवा में चमत्कारिक हनुमानजी     |     मतदान के लिए जागरूकता शिविर आयोजित     |     विश्व पर्यटन स्थली साँची में प्याऊ उगल रही गर्म पानी पर्यटक एवं राहगीर परेशान     |     एस एस टी चैक पाइंट पर जप्त किए लगभग साढे चार लाख रुपए एवं कूपन     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811