Let’s travel together.

महिलाओं ने अपनी मेहनत और लगन से सफलता के नए आयाम स्थापित किए हैं- स्वास्थ्य मंत्री

0 503

महिलाओं के कारण ही घर-परिवार और समाज खुशहाल तथा प्रगतिशील बनता है- स्वास्थ्य मंत्री
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर कलेक्ट्रेट में कार्यक्रम सम्पन्न

रायसेन। महिलाएं हमारे समाज की धूरी है। महिला सशक्तिकरण के बिना कोई राष्ट्र या समाज आगे नहीं बढ़ सकता है। भारत में अत्यंत प्राचीन काल से ही माँ, बहन और बेटी का स्थान सबसे ऊपर रहा है। महिलाओं की ममता और मातृत्व जैसे गुणों के कारण ही घर-परिवार, समाज और राष्ट्र खुशहाल, संस्कारवान और प्रगतिशील बनता है। यह बात स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी ने अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर कलेक्ट्रेट कार्यालय परिसर में आयोजित कार्यक्रम में कही। कार्यक्रम का शुभारंभ कन्या पूजन और दीप प्रज्जवलित कर किया गया।


स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने सभी महिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभाकमनाएं देते हुए कहा कि प्रारंभ से ही प्रत्येक क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी रही है। महिलाओं ने हर क्षेत्र में अपनी प्रतिभा और क्षमता का परिचय दिया है चाहें शिक्षा, खेल, स्वास्थ्य, सुरक्षा, ज्ञान-विज्ञान का क्षेत्र हो। महिलाओं ने अपनी मेहनत से सफलता के नए आयाम स्थापित किए गए हैं। स्वास्थ्य के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी कहीं अधिक है। महिला अधिकारी, कर्मचारी, डॉक्टर, एएनएम, नर्स सभी पूरी लगन और सेवाभाव से उत्कृष्ट कार्य कर रही हैं।


उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश, आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की ओर आगे बढ़ रहा है और यह महिलाओं की भागीदारी के बिना संभव नहीं है। प्रदेश में महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने, महिला सशक्तिकरण के लिए अनेक योजनाएं, कार्यक्रम संचालित किए जा रहे हैं। स्व-सहायता समूहों के माध्यम से महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ा जा रहा है। अनेक स्व-सहायता समूहों की महिलाओं ने प्रदेश ही नहीं देश में भी अपनी अलग पहचान बनाई है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि महिलाएं आज ना सिर्फ स्वयं आत्मनिर्भर हो रही हैं बल्कि दूसरे लोगों को भी रोजगार उपलब्ध करा रही हैं।
स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को पेयजल के परेशान ना होना पड़े, इसके लिए जल जीवन मिशन के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्र के प्रत्येक घर में नल से जल प्रदाय करने की दिशा में काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में केन्द्र सरकार द्वारा बेटी बचाओ अभियान, प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना, निरूशुल्क रसोई गैस कनेक्शन, निरूशुल्क राशन, हर घर में शौचालय तथा बेटियों की पढ़ाई के लिए अनेक योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। इसी प्रकार मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में प्रदेश में लाड़ली लक्ष्मी योजना, बेटियों को पढ़ाई के लिए निरूशुल्क साइकिल एवं पाठ्य-पुस्तकों का वितरण, गाँव की बेटी योजना, प्रतिभा किरण योजना और मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना के माध्यम से महिलाओं के सामाजिक, आर्थिक और राजनीतिक सशक्तिकरण के लिए कई अभियान संचालित है।


कार्यक्रम में कलेक्टर श्री अरविन्द कुमार दुबे ने कहा कि सभीमहिलाओं को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि जिले में प्रशासनिक दृष्टि से अनेक महत्वपूर्ण पदों पर महिला अधिकारी पदस्थ हैं और पूरी लगन, मेहनत से दायित्वों का निर्वहन कर रही हैं। महिला अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा शासन की सभी वर्गो के लिए संचालित योजनाओं, कार्यक्रमों का क्रियान्वयन अधिक संवेदनशीलता के साथ और अधिक बेहतर रूप से किया जाता है।

महिलाओं को किया गया सम्मानित

कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी द्वारा महिला अधिकारियों, कर्मचारियों तथा स्व-सहायता समूह की महिलाओं को शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया गया। साथ ही विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं तथा स्व-सहायता समूह के तहत महिलाओं को ऋण वितरण भी किया गया।

स्वास्थ्य मंत्री ने महिला सुरक्षा पोस्टर का किया विमोचन

कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी, कलेक्टर श्री अरविन्द कुमार दुबे तथा पुलिस अधीक्षक श्री विकास कुमार शहवाल द्वारा महिला सुरक्षा पोस्टर का विमोचन किया गया। साथ ही उन्होंने, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पीसी शर्मा द्वारा महिलाओं को समर्पित कर लिखी गई कविता का भी विमोचन किया।

स्वास्थ्य मंत्री ने पोषण प्रदर्शनी का किया अवलोकन

स्वास्थ्य मंत्री डॉ चौधरी द्वारा कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम के दौरान महिला बाल विकास विभाग द्वारा लगाई गई पोषण प्रदर्शनी का भी अवलोकन किया गया।

अपराजिता मार्शल आर्ट प्रशिक्षण का शुभारंभ

कलेक्ट्रेट परिसर में आयोजित अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम में किशोरी बालिकाओं के लिए अपराजिता प्रशिक्षण का शुभारंभ किया गया। अपराजिता कार्यक्रम के तहत जिले की 150 किशोरी बालिकाओं को जूडो, कराटे, ताईक्वांडो, बॉक्सिंग एवं कुश्ती में दस दिन का प्रशिक्षण दिया जाएगा। यह प्रशिक्षण महिला बाल विकास विभाग और खेल विभाग के समन्वय से दिया जा रहा है। कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक श्री विकास कुमार शहवाल, अपर कलेक्टर श्री आदित्य रिछारिया, जिला पंचायत सीईओ श्री पीसी शर्मा, सिलवानी एसडीएम श्रीमती संघमित्रा बौद्ध, रायसेन एसडीएम श्री एलके खरे, सहित अन्य अधिकारी, महिलाएं उपस्थित रहीं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

राजेश बादल की नई किताब::“यह अंतिम था, जिसे पोर्टल प्रकाशित करने का साहस नहीं दिखा सका और मैंने यह कॉलम बंद कर दिया।“     |     क्षेत्र मे दहशत फैलाने वाले कुख्यात शराब तस्कर व आदतन आरोपी  NSA में गिरफ्तार कर केन्द्रीय जेल भोपाल भेजा गया     |     कुंडलपुर में आचार्य पदारोहण न भूतों न भविष्यति,एक नहीं दो दो मोहन बने साक्षी     |     सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन     |     प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दिल्ली की तीन सदस्य टीम का निरीक्षण     |     सप्त दिवसीय हनुमत शिव पंचायत, प्राण प्रतिष्ठा एवं राम कथा प्रवचन का आयोजन,कलश यात्रा निकली     |     नवरात्र के आखिरी दिन मंदिरों में भक्तों की रही भीड़     |     सवारी ऑटो को एसडीएम के जीप चालक ने मारी टक्कर, एक की मौत,चैत्र दुर्गा माता की अष्टमी पर पूजन करने रायसेन आया था आदिवासी परिवार     |     श्रीरामनवमी पर शहर में निकली जवारो की शोभा यात्रा, मिश्रा तालाब पर किया गया विसर्जन     |     दैवियां हमारे जीवन में नौ दिन के लिए नहीं बल्कि सदा के लिए परिवर्तन चाहती हैं- ब्रह्माकुमारी रुक्मिणी दीदी     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811