Let’s travel together.

बाबासाहेब अंबेडकर के बनाये सविधान को विश्व के कई देशों ने अपनाया,उसकी सराहना भी की-कमलनाथ

0 482

लेकिन यदि अच्छा संविधान गलत हाथों में चला जाए तो देश का क्या होगा ,यह आज हमारे सामने एक बड़ा विचारणीय प्रश्न है – पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ

“निशुल्क विधि शिक्षा मार्गदर्शन संस्थान” की द्वितीय वार्षिक वर्षगांठ पर कार्यक्रम आयोजित

भोपाल।“आप सभी के सामने आज हमारे प्रदेश की तस्वीर है , आज प्रदेश में बेरोजगारी चरम पर है , यदि युवाओं का भविष्य ही अंधकार में होगा तो प्रदेश का भविष्य कैसे सुरक्षित होगा ,यह आज हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती व चिंता का विषय है” उक्त संबोधन आज प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने “निशुल्क विधि शिक्षा मार्गदर्शन संस्थान” की द्वितीय वार्षिक वर्षगांठ के अवसर पर अपने निवास पर आयोजित कार्यक्रम में दिया।

उन्होंने कार्यक्रम के आयोजक कौशल डेहरिया की सराहना करते हुए कहा कि उन्होंने अपने बल पर इस प्रयास को अमल में लाया है , यह उनकी सोच थी।आज हमारे सामने बड़ा प्रश्न है कि आपका भविष्य कैसे सुरक्षित रहे क्योंकि आप सभी मिलकर ही तो मध्य प्रदेश का नवनिर्माण करेंगे।उन्होंने कहा कि हम कैसे संविधान की रक्षा करें ,कैसे अपनी संस्कृति की रक्षा करें।देश की संस्कृति और कांग्रेस की संस्कृति एक है ,जो देश को जोड़ने का काम करती है।हमारी संस्कृति सभी को जोड़ने का काम करती है ,हर समाज ,हर धर्म ,हर जाति ,हर भाषा को जोड़ने का काम करती है।विश्व में से कोई देश नहीं है जहाँ इतने धर्म ,इतनी अनेकता में एकता ,इतनी जातियां ,इतने धार्मिक पर्व-त्यौहार है।


श्री कमलनाथ ने कहा कि आज हमें इस संस्कृति की रक्षा करना है , हमें उनसे मुक़ाबला करना है जो हमारी संस्कृति पर आक्रमण कर रहे हैं ,जो इस संस्कृति के विपरीत जा रहे हैं।
बाबासाहेब अंबेडकर के बनाये हुए सविधान को विश्व के कई देशों ने अपनाया ,उसकी सराहना की लेकिन यदि अच्छा संविधान गलत हाथों में चला जाए तो क्या होगा ,यह आज हमारे सामने विचारणीय प्रश्न है।
आपको अपने प्रोफेशन के बारे में भी सोचना है ,आपको आत्मचिंतन भी करना है कि हमारे देश की महानता क्या है।
आज हमारी जो अध्यात्मिक शक्ति है वही हमारी सबसे बड़ी शक्ति है ,उससे नई पीढ़ी को जोड़ना होगा।
हमारे सामने प्रदेश की तस्वीर भी है , आज बेरोजगारी चरम पर है , यदि युवाओं का भविष्य अंधकार में होगा तो प्रदेश का भविष्य कैसा होगा ,यह आज सबसे बड़ी चुनौती व चिंता का विषय है।

रोजगार तब मिलता है ,जब अपनी योजनाओं का लाभ मिले , यदि योजनाओं में भ्रष्टाचार होगा तो रोजगार नहीं मिल सकता।प्रदेश में निवेश आए ,तभी रोजगार का लाभ मिलता है ,उससे आर्थिक गतिविधि बढ़ती है।
आज ज्ञान और जागरूकता दोनो अहम है।आज से 20 वर्ष पहले जब इंटरनेट नहीं था तो ज्ञान प्राप्त करने के लिए लोगों को भटकना पड़ता था ,आज ज्ञान बड़ी आसानी से प्राप्त किया जा सकता है।वैसे भी ज्ञान प्राप्त करने की कोई उम्र या सीमा नहीं होती है।आज शिक्षा के साथ ज्ञान प्राप्त करना बेहद आवश्यक है ,इसी ज्ञान के माध्यम से हम प्रदेश व देश की तस्वीर और वास्तविकता को जान सकेंगे।

श्री नाथ ने कहा कि मैं इस अवसर पर आप सभी को दूसरी वर्षगांठ पर शुभकामनाएं देता हूं और मुझे पूरा विश्वास है कि आप सभी देश को , प्रदेश को और आगे ले जायेंगे।
इस अवसर पर पूर्व मंत्री पीसी शर्मा भी उपस्थित थे.

न्यूज सोर्स-नरेन्द्र सलूजा मीडिया समन्वयक

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आयसर ट्रक ने मोटरसाइकिल सवार की टक्कर मारी,एक की मौत     |     भोपाल विदिशा हाईवे 18 पर 3 दिन से लगातार बार-बार लग रहा जाम,यात्रियों को हो रही परेशानी     |     ट्रेन की चपेट में आने से ईंट भट्टा श्रमिक की मौत     |     जम्मू-कश्मीर में आतंकियों पर एक्शन की तैयारी? अमित शाह कल करेंगे सुरक्षा स्थिति पर अहम बैठक     |     बिहार: बेखौफ बदमाशों के हौसले बुलंद, खगड़िया में माकपा नेता की गोली मारकर हत्या     |     बुरहानपुर: हाल-ए-अस्पताल! संक्रमण के साए में मरीज, यहां टीबी रोगी भी सामान्य वार्ड में भर्ती     |     उपमुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने किया 32वें सुरताल महोत्सव के प्रतिभागियों को सम्मानित      |     साइनिंग अमाउंट लेकर भी शाहरुख खान ने फिल्म ठुकराई, अनिल कपूर का करियर बन गया!     |     ऋषभ पंत ने लगाया स्पेशल ‘शतक’ जितना कमाया सब कर देंगे दान     |     ग्राम आमखेड़ा में दिखा बाघ,लोगों को देखकर शेर जंगल मे चला गया     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811