Let’s travel together.

कथित लेडी पत्रकार आरती परिहार की धमकी से डरा परिवार आत्महत्या को हो सकता है विवश

0 652

-जमीन खाली करने पुलिस से सम्बन्ध बताकर कर रही है धमकी भरे फोन -एक ने मकान तुड़वाया दूसरी दे रही है फोन पर धमकी

ग्वालियर । शिवपुरी में माफिया तत्वों के इशारे पर पुलिस से अपने खास सम्बन्ध बताने वाली 2 महिला पत्रकारों की ब्लैकमेलिंग व धमकी से डरा एक परिवार पुलिस अधीक्षक की शरण मे न केवल न्याय की मांग लेकर पहुंचा बल्कि उसने न्याय न मिलने पर पूरे परिवार सहित आत्महत्या करने की बात भी पुलिस अधीक्षक कार्यालय के बाहर मीडिया के सामने कही है जो काफी गम्भीर है। अभी आवेदन पर क्या कार्यवाही हुई ये जानकारी सामने नही आ पाई है ।
पुलिस अधीक्षक शिवपुरी को सौंपे आवेदन में हरि सिंह परिहार ने बताया कि वो 40 साल के सरकारी कब्जे की भूमि पर बनी झोंपड़ी को महिला पत्रकार और उसके साथियो द्वारा हटा दिया इसके बाद पत्रकार आरती परिहार द्वारा परिवार को राजीनामा का दबाव बनाने एवं फोन लगातार धमकी दी जा रही हैं ।
हरिसिंह परिहार पुत्र पूरन सिंह परिहार पिछले 25 सालो से वन विहार कॉलोनी करौंदी सम्पवैल के पास अपनी 40 साल से कब्जाशुदा भूमि पर टपरिया बनाकर अपनी तीन बेटियो के साथ निवास करता था। यहां बनी हमारी झोंपड़ी को पत्रकार भार्गव और उसके साथियों ने टपरिया को पटक दिया और हमें बेघर कर दिया। इसके बाद हमारे पास मौके पर एक अन्य महिला पत्रकार आरती परिहार आई जिसने पहले तो हमारी वीडियो बनाई और खबर चलाने की बात कही लेकिन अब पत्रकार आरती परिहार भी पैसे खाकर हमें भू माफिया बता रही है तथा जगह जगह बोल रही है कि हरिसिंह परिहार और उसका परिवार तो इसी प्रकार जमीनों को कब्जाता है। अब आरती परिहार लगातार हमें फोन लगातार राजीनामा करने की बात बोल रही है और बोल रही है कि राजीनामा कर लो नहीं तो मैं तुम्हारे ऊपर एफआईआर करवा दूंगी क्योंकि रजिस्ट्रिी तो समीक्षा के पास है इस प्लॉट की तुम उसका कुछ नहीं कर पाओगे। आरती परिहार और समीक्षा भार्गव अब दोनों एक हो गईं हैं और वे लगातार हमें परेशान कर रही हैं, आरती परिहार हमें लगातार धमका रही है और एफआईआर कराने की धमकी दे रही है, वे हमारी टूट चुकी टपरिया की वीडियो वायरल कर हमें हमें अतिक्रमक बताया जा रहा है। आरती परिहार अपने मोबाइल नम्बर 9770995886 से 22 जनवरी से लगातार फोन लगाकर धमकी दे रही है।


पत्रकार आरती परिहार द्वारा इस तरह हमें जो परेशान किया जा रहा है उसके खिलाफ कार्यवाही की जाए एवं हमें मौके पर जमीन पर कब्जा दिलवाए जाया जाए।
शिवपुरी में तथाकथित पत्रकारों के माफिया व गुंडा तत्वों से सम्बन्ध होने से आम आदमी दहशत में जीवन जी रहा है । हाल ही एक कथित पत्रकार अजयराज सक्सेना पर पुलिस ने कार्यवाही की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

आयसर ट्रक ने मोटरसाइकिल सवार की टक्कर मारी,एक की मौत     |     भोपाल विदिशा हाईवे 18 पर 3 दिन से लगातार बार-बार लग रहा जाम,यात्रियों को हो रही परेशानी     |     ट्रेन की चपेट में आने से ईंट भट्टा श्रमिक की मौत     |     जम्मू-कश्मीर में आतंकियों पर एक्शन की तैयारी? अमित शाह कल करेंगे सुरक्षा स्थिति पर अहम बैठक     |     बिहार: बेखौफ बदमाशों के हौसले बुलंद, खगड़िया में माकपा नेता की गोली मारकर हत्या     |     बुरहानपुर: हाल-ए-अस्पताल! संक्रमण के साए में मरीज, यहां टीबी रोगी भी सामान्य वार्ड में भर्ती     |     उपमुख्यमंत्री राजेंद्र शुक्ल ने किया 32वें सुरताल महोत्सव के प्रतिभागियों को सम्मानित      |     साइनिंग अमाउंट लेकर भी शाहरुख खान ने फिल्म ठुकराई, अनिल कपूर का करियर बन गया!     |     ऋषभ पंत ने लगाया स्पेशल ‘शतक’ जितना कमाया सब कर देंगे दान     |     ग्राम आमखेड़ा में दिखा बाघ,लोगों को देखकर शेर जंगल मे चला गया     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811