Let’s travel together.

सुनारी में 38 लाख की गौशाला का निर्माण कार्य पैसों की कमी के चलते रुका, स्वास्थ्य मंत्री ने किया था भूमिपूजन

0 108

-7 एकड़ भूमि पर 38 लाख की लागत से होना था निर्माण
-सांची जनपद की 5 ग्राम पंचायतों में अधूरा पड़ा है गोशालाओं का निर्माण कार्य

सलामतपुर रायसेन से अदनान खान की रिपोर्ट।
सांची जनपद की ग्राम पंचायत सुनारी सलामतपुर में 38 लाख रुपए लागत की गौशाला का निर्माण कार्य पैसों की कमी के चलते रुक गया है। इस गौशाला का भूमिपूजन 3 जुलाई 2021 को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी ने करते हुए कहा था कि गोशाला के निर्माण के साथ साथ उसका संचालन सही तरीके से किये जाने पर ही गोशाला निर्माण का उद्देश्य पूर्ण होगा। ये कार्य सेवा का कार्य है। गायों के सड़कों पर बैठने से वाहन दुर्घटनाओं की समस्या बनी रहती है। गोशाला बनने से इस समस्या के निराकरण में भी मदद मिलेगी।उन्होंने कहा था कि गौशालाओं के बेहतर प्रबंधन और संचालन के लिए गौशालाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में भी काम किया जाएगा। इसके लिए गौशालाओं में गौकाष्ठ, गोबर गैस, जैविक खाद सहित कीटनाशक निर्माण को बढ़ावा दिया जा रहा है। इससे लोगों को रोजगार भी मिलेगा। लेकिन भूमि पूजन के 8 महीने बीत जाने के बाद भी मौके पर सिर्फ पिलर और जगह की पूरनी ही हो पाई है। गौरतलब है कि जिले में महात्मा गांधी नरेगा योजना के अंतर्गत जिले की 7 जनपद पंचायतों में करोड़ों रुपए के 15 चारागाह विकास के कार्य स्वीकृत किए गए थे। कुछ पंचायतों में गौशाला निर्माण पूरे हो गए हैं। और कुछ पंचायतों में अधूरे पड़े हुए हैं। जिन पंचायत क्षेत्रों में गौशाला निर्माण पूरे हो चुके हैं। यहां भी मवेशियों को नही रखा जा रहा है। मवेशी रोड पर ही बैठे हैं। इसी तरह सुनारी गांव के पास शासन प्रशासन ने 7 एकड़ राजस्व भूमि गोशाला निर्माण के लिए स्वीकृत की है। जिसमें लगभग 2 एकड़ क्षेत्र में 38 लाख रुपए की लागत से गोशाला का निर्माण कार्य होना है। लेकिन पैसों की कमी के चलते यहां पर अभी तक सिर्फ जगह की पूरनी और पिलर ही खड़े हो पाएं हैं। जिसकी वजह से मवेशी रोड पर ही बैठे हैं। इसी वजह से प्रतिदिन सड़क हादसे बढ़ते ही जा रहे हैं। स्थानीय नागरिकों को आस थी कि अब प्रदेश में भाजपा की सरकार बन गई है तो गायों को गोशाला में भेजा जाएगा। लेकिन भाजपा की सरकार बनने के बाद भी स्तिथि वहीं की वहीं है।

शाहपुर भरतीपुर गांव में भी 37 लाख रुपए लागत की गोशाला का कार्य पड़ा है अधूरा–सांची जनपद की ग्राम पंचायत शाहपुर के भरतीपुर गांव में भी 37 लाख रुपए की लागत से गोशाला का निर्माण कार्य चल रहा था। जिसमें 16 लाख रुपए का पेमेंट नही होने के चलते पिछले 8 महीने से गोशाला का निर्माण कार्य अधूरा पड़ा है। गोशाला के फर्श, प्लास्टर सहित अन्य काम अधूरे पड़े हैं। निर्माण कार्य नही होने से क्षेत्र में मवेशीयों का कोई ठिकाना नही है। और वह आवारा रोड़ो पर घूम रहे हैं। जिसकी वजह से क्षेत्र में दुर्घटनाएं बढ़ रही हैं। वहीं ज़िम्मेदार अधिकारी इस और ध्यान ही नही दे रहे हैं।

सांची जनपद की 5 ग्राम पंचायतों में चल रहा था गोशालाओं का निर्माण कार्य-सांची जनपद क्षेत्र की 5 पंचायतों सुनारी सलामतपुर, शाहपुर, पीपलख़िरया,गीदगढ़ और सेमरा में नरेगा से गोशालाओं का निर्माण कार्य चल रहे थे। लेकिन सभी जगह शासन से पैसे नही आने के कारण निर्माण कार्य अधूरे पड़े हैं। इन सभी गांवों के ग्रामीण कई बार ज़िम्मेदार अधिकारियों को समस्या से अवगत करा चुके हैं। लेकिन स्तिथि ज्यों की त्यों बनी हुई है।

इनका कहना है।
सांची जनपद क्षेत्र में नरेगा से 5 पंचायतों सुनारी सलामतपुर, शाहपुर, पीपलख़िरया,गीदगढ़ और सेमरा में गोशालाओं के निर्माण कार्य चल रहे हैं। लेकिन ऊपर से ही पैसा नही आ रहा है। पैसों की कमी के चलते इन गोशालों का निर्माण कार्य रुका हुआ है।
प्रदीप छलोत्रे, सीईओ जनपद सांची।

सुनारी गांव में 38 लाख की लागत से गोशाला का निर्माण कार्य होना है। जिसका भूमिपूजन 3 जुलाई 21 को स्वास्थ्य मंत्री ने किया था। ठेकेदार ने काम भी शुरू कर दिया था। जिसका मूल्यांकन भी हो गया था और ठेकेदार का ही लगभग 7 लाख रुपए का पेमेंट रुक गया है। पैसों की कमी के चलते गौशाला का निर्माण कार्य रुका हुआ है।
मूलचंद यादव, पूर्व सरपंच ग्राम पंचायत सुनारी सलामतपुर।

ग्राम पंचायत शाहपुर के अंतर्गत भरतीपुर गांव में 37 लाख रुपए लागत की गौशाला का निर्माण कार्य पैसों की कमी के चलते पिछले 8 महीने से रुका हुआ पड़ा है। लगभग 16 लाख रुपए का पेमेंट रुका हुआ है। जिसकी वजह से गोशाला का फर्श, प्लास्टर सहित अन्य कार्य अधूरे पड़े हैं।
टीकाराम पाल, पूर्व सरपंच प्रतिनिधि ग्राम पंचायत शाहपुर।

सलामतपुर क्षेत्र में आवारा मवेशियों के कारण आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। बस्ती के लोगों ने सोचा था कि अब गोशाला बन जाएगा तो इन आवारा मवेशियों से छुटकारा मिल जाएगा। लेकिन नगर में जो गौशाला बनाई जा रही थी उसका भी निर्माण कार्य पैसों की कमी के चलते रुक गया है। और ज़िम्मेदार अधिकारी इस और ध्यान ही नही दे रहे हैं।
कैलाश गोस्वामी, समाजसेवी सलामतपुर।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

24 घंटे में परमाणु हथियारों की पूरी दुनिया में बढ़ी हलचल, कई देश कर रहे तबाही का रिहर्सल     |     UP में पहले चरण की वोटिंग ने बढ़ाई बीजेपी की टेंशन, दूसरे राउंड के लिए बनाई ये रणनीति     |     अनिकेत ठाकुर की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत के एक माह बाद भी नही पकड़े गये हत्यारे,परिजनों ने DFO को दिया ज्ञापन     |     इस बार हनुमान जन्मोत्सव पर वन रहा अद्भुत संयोग, कई वर्षों बाद मंगलवार को पड़ेगी जयंती     |     TODAY :: राशिफल मंगलवार 23 अप्रेल 2024     |     विदिशा संसदीय क्षेत्र में 13 अभ्यर्थी चुनाव मैदान में नाम वापसी के अंतिम तीन अभ्यर्थियों ने वापस लिया नाम निर्देशन पत्र     |     हनुमान जयंती पर विशेष:: घोड़े पर सवार होकर आए थे धरसीवा में चमत्कारिक हनुमानजी     |     मतदान के लिए जागरूकता शिविर आयोजित     |     विश्व पर्यटन स्थली साँची में प्याऊ उगल रही गर्म पानी पर्यटक एवं राहगीर परेशान     |     एस एस टी चैक पाइंट पर जप्त किए लगभग साढे चार लाख रुपए एवं कूपन     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811