Let’s travel together.

निकाले गए संविदा कनिष्ठ विक्रेताओं ने सहकारिता विभाग के डीआर कार्यालय पर दिया धरना

0 102

उपायुक्त के उच्चाधिकारियों से बातचीत कर नौकरी पर वापस लेने का भरोसा देने के बाद समाप्त हुआ धरना

तारकेश्वर शर्मा

छिंदवाडा। कामगार कर्मचारी कांग्रेस के अध्यक्ष वासुदेव शर्मा के नेतृत्व में नौकरी से निकाले गए संविदा कनिष्ठ विक्रेताओं ने सहकारिता विभाग के उपायुक्त कार्यालय पर धरना दिया। सुबह 11 बजे से शुरू हुआ धरना 4 बजे तक चला और उपायुक्त के उच्चाधिकारियों से बातचीत कर वापस लेने के आश्वासन के बाद ही धरना समाप्त हुआ। धरने में ओं ने कामगार कर्मचारी कांग्रेस के अध्यक्ष वासुदेव शर्मा ने डीआर कार्यालय का घेराव कर निकाले गए सभी कनिष्ठ विक्रेताओं को तत्काल काम पर वापस लेने की मांग की। घेराव में दीपिका शर्मा, मनोरमा राव, जयराज वर्मा, पवन हरफोडे, अरविंद कोलारे, विजय इवनाती, हरिचंद सोनवंशी, जयराम साहू, संध्या नरेती सहित बडी संख्या में कनिष्ठ विक्रेता शामिल रहे।


धरने में बोलते हुए कामगार कर्मचारी कांग्रेस के अध्यक्ष वासुदेव शर्मा ने कहा कि भाजपा की शिवराज सरकार छिंदवाड़ा में नौकरियों में लगे लोगों को नौकरियों से निकालने का अभियान चला रही है, सहकारिता विभाग सहित 300 से अधिक लोगों को निकाला जा चुका है। उन्होंने कहा कि रोजगार देने की वजाय रोजगार में लगे लोगों की नौकरियां छीनने का अभियान शुरू कर दिया गया है, बीते पांच महीने में ही जिले के सरकारी विभागों में काम करने वाले सैकडों लोगों को नौकरियों से निकाला जा चुका है, यह अब तक की सबसे बडी छंटनी है जिसे भाजपा सरकार और उसके नेता अंजाम दे रहे हैं और अधिकारी इस काम में उनकी मदद कर रहे हैं। धरना दे रहे सहकारिता विभाग से निकाले गए संविदा कनिष्ठ विक्रेताओं के बारे में पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष अमित सक्सेना ने भी उपायुक्त से फोन पर बात, इसके बाद संतोषजनक बातचीत हुई और धरना समाप्त हुआ।


कामगार कर्मचारी कांग्रेस के अध्यक्ष वासुदेव शर्मा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री माननीय कमलनाथजी एवं सांसद नकुलनाथजी विभिन्न विभागों के नौकरियों में लगे लोगों को नौकरी से निकाले जाने की जानकारियां मिलने से चिंतित हैं और उन्होंने इनकी लडाई पूरी ताकत से उठाने के निर्देश कामगार कर्मचारी कांग्रेस के पदाधिकारियों को दिए है, जिसके कारण ही आज डी आर कार्यालय पर धरना दिया गया।
शर्मा ने कहा कि भाजपा सरकार जिले में काम करने वालों के साथ अन्याय कर रही है, पहले तो उन्हें न्यूनतम वेतन तक नहीं दिया जा रहा, अब नौकरियों से निकालने का काम शुरू कर दिया है, जिससे कर्मचारियों में डर और भय का वातावरण है, कामगार कर्मचारी कांग्रेस सरकार से पीड़ित प्रताड़ित कामगारों की आवाज बनकर उनके लिए संघर्ष करेगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

बदले की आग में जल रहे नेतन्याहू, ईरान पर आज ले सकते हैं ‘विनाशक’ फैसला     |     दैवियां हमारे जीवन में नौ दिन के लिए नहीं बल्कि सदा के लिए परिवर्तन चाहती हैं- ब्रह्माकुमारी रुक्मिणी दीदी     |     राजेश बादल की नई किताब::“यह अंतिम था, जिसे पोर्टल प्रकाशित करने का साहस नहीं दिखा सका और मैंने यह कॉलम बंद कर दिया।“     |     क्षेत्र मे दहशत फैलाने वाले कुख्यात शराब तस्कर व आदतन आरोपी  NSA में गिरफ्तार कर केन्द्रीय जेल भोपाल भेजा गया     |     कुंडलपुर में आचार्य पदारोहण न भूतों न भविष्यति,एक नहीं दो दो मोहन बने साक्षी     |     सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा का समापन     |     प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दिल्ली की तीन सदस्य टीम का निरीक्षण     |     सप्त दिवसीय हनुमत शिव पंचायत, प्राण प्रतिष्ठा एवं राम कथा प्रवचन का आयोजन,कलश यात्रा निकली     |     नवरात्र के आखिरी दिन मंदिरों में भक्तों की रही भीड़     |     सवारी ऑटो को एसडीएम के जीप चालक ने मारी टक्कर, एक की मौत,चैत्र दुर्गा माता की अष्टमी पर पूजन करने रायसेन आया था आदिवासी परिवार     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811