Let’s travel together.

कलियासोत नदी पर पुल की एप्रोच सर्विस रोड की रीटेनिंग वॉल टूटने पर इंजीनियर निलंबित,निर्माण एजेन्सी तथा कन्सलटेंट ब्लैकलिस्ट

0 826

8 लेन के स्थान पर 4 लेन से गुजरेगा यायायात 4 माह में ठेकेदार के व्यय पर पुर्ननिर्माण पूर्ण कराया जाएगा

भोपाल। भोपाल जबलपुर राष्ट्रीय राजमार्ग कमांक 12 पर गोहरगंज से भोपाल के मध्य फोरलेन सड़क मार्ग का निर्माण हेतु 48.71 किलोमीटर की लंबाई का कार्य मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम द्वारा भारत शासन से प्राप्त स्वीकृति एवं व्यय पर वर्ष 2017 में अनुबंधित किया गया था । उक्त मार्ग पर 3 बायपास, 4 ग्रेड सेपरेटर, 5 अन्डरपास, 3 बड़े पुल, 13 छोटे पुल तथा 32 पुलियाएं निर्मित की गई थी। यह कार्य मई 2021 में पूर्ण किया गया था। इस कार्य का मई 2021 में अन्नतिम पूर्णतः प्रमाण पत्र जारी किया गया। इस कार्य की निर्माण एजेन्सी सीडीएस इंडिया प्रा. लिमि, नई दिल्ली थी तथा इसके अथारिटी इंजीनियर थीम इंजीनियरिंग सर्विसेस जयपुर नियुक्त थे।

विगत कुछ दिनों से लगातार हो रही वर्षा एवं दिनांक 24 जुलाई 2022 की रात कलियासोत बांध के गेट खोले जाने से पानी के अप्रत्याशित बहाव के फलस्वरूप कलियासोत नदी पर बने वृहद पुल की अप्रोच सर्विस रोड के किनारे बनाई गई लगभग 40 मीटर लम्बी सुरक्षा दीवाल खिसकने से गिर गई जिससे एक तरफ की सर्विस लेन पर कटाव हो गया। वर्तमान में पुल को कोई क्षति नहीं हुई है।

दिनांक 25 जुलाई की प्रातः राष्ट्रीय राजमार्ग एवं परिवहन मंत्रालय, भारत सरकार के क्षेत्रीय अधिकारी के साथ मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम के प्रबंध संचालक एवं वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा घटनास्थल का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण दल की अनुशंसा पर निर्मित सड़क जो कि 8 लेन में है, दुर्घटनाग्रस्त हुई 2 सर्विस लेन तथा उससे लगी हुई 2 मुख्य लेन पर यातायात अस्थायी रूप से प्रतिबंधित किया गया है। भोपाल एवं मण्डीदीप आने जाने वाले सभी वाहनों के लिए यातायात, लगभग 1 किलोमीटर की लम्बाई में चार लेन सड़क से निर्बाध रूप से जारी है।

गोपाल भार्गव, मान मंत्री, लोक निर्माण विभाग द्वारा इस घटना की समीक्षाकी गई। सड़क विकास निगम को स्थायी एवं तात्कालिक दोनों प्रकार के उपाय गम द्वारा वर्तमान में पानी का बहाव तेज होने के कारण सुरक्षा की T 25 हजार बोरियां रेत भरकर कटाव स्थल की पिचिंग का कार्य प्रारम्भ और अधिक नुकसान से बचा जा सके। सम्पूर्ण कार्य की मरम्मत एवं पुराई में  लगभग 4 माह का समय लगने की संभावना है। प्रमुख रूप से पाइल प रफ की सुरक्षा दीवाल नये सिरे से बनाई जाकर पुनः निर्माण किया जाएगा।ठेकेदार कम्पनी मेसर्स सीडीएस इंडिया लिमि द्वारा शत प्रतिशत अपने मध्य प्रदेश सड़क विकास निगम द्वारा लगभग 1 किलोमीटर की लंबाई लेने के स्थान पर 4 लेन की सुविधा रहेगी, की सुरक्षा के लिये विशेष हैं। सीमा चिन्ह तथा रात्रि के समय संकेतक आदि लगाये जा रहे है ताकि दुर्घटना न हो ।

गोपाल भार्गव, लोक निर्माण मंत्री ने अनुबंध की शर्तों के अनुसार तकनीकी त्रुटियों को देखते हुये ठेकेदार कम्पनी सीडीएस इंडिया लिमि कोब्लेक लिस्टेड करने के निर्देश दिए। साथ ही प्रोजेक्ट के कन्सलटेन्ट थीम इंजीनियर पर दण्डात्मक कार्यवाही के निर्देश दिए। प्रबंध संचालक मध्य प्रदे शशांक मिश्रा ने बताया कि निगम के प्रबंधक श्री एस.पी. दुबे को तत्काल निलंबित गया है तथा तत्कालीन जिला प्रबंधक श्री पवन अरोड़ा (सेवावानिवृत्त) के विरूद्ध विभागीय कार्यवाही प्रारम्भ की गई है।

बाइट-गोपाल भार्गव लोकनिर्माण मंत्री

Leave A Reply

Your email address will not be published.

बड़नगर पुलिस ने 13 ग्राम स्मैक के साथ बदमाश को किया गिरफ्तार     |     कैमूर की पहाड़ियों में मिले 12 हजार वर्ष पुराने विश्व के पहले देवी उपासना स्थल     |     किसान की बेटी का यूपीएससी में चयन, लक्ष्य के लिए बनाई इंटरनेट मीडिया से दूरी     |     28 साल बाद आराेपित को पकड़ा, चोरी के मामले में था फरार     |     ग्वालियर में दिल दहला देने वाली घटना, चार दिन की पोती को दादी ने गला घोंटकर मार डाला     |     डिप्टी रेंजर ने वन चौकी में फांसी लगाकर दी जान, कारण की तलाश     |     सड़क पार कर रहे बुजुर्ग को ट्रक ने टक्कर मारी, मौत     |     दतिया के दुरसड़ा थाने के प्रधान आरक्षक को लोकायुक्त टीम ने 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़ा     |     बसपा प्रमुख मायावती की मध्य प्रदेश में पहली चुनावी सभा शुक्रवार को रीवा में     |     गर्मियों में बदल रहा वर्कआउट का ट्रेंड, कार्डियो पर ज्यादा ध्यान     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811