Let’s travel together.

जिला पंचायत सदस्य के पद पर राजेन्द्र बघेल की जीत को लेकर संशय,पूजा राकेश चौकसे ने मतगणना में धांधली की शिकायत

0 500

कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद दुबे ,पर्यवेक्षक राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल में आवेदन देकर मतों पुनर्गणना की मांग की,जाति प्रमाणपत्र पर भी उठाए सबाल

शिवलाल यादव की रिपोर्ट

रायसेन।हाल ही में संपन्न हुए जिला पंचायत सदस्य वार्ड क्रमांक 3 मेहगांव में मतगणना के दौरान निर्वाचित घोषित राजेन्द्र बघेल की जीत को लेकर संशय बरकरार है।चुनाव में उतरे प्रत्याशी पूजा राकेश चौकसे सहित अन्य पराजित उम्मीदवारों ने मामले की शिकायत कलेक्टर व जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद कुमार दुबे, पर्यवेक्षक राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल में आवेदन देकर की है।साथ ही जिला पंचायत सदस्य वार्ड 3 मेहगांव की जिला प्रशासन से मतों की पुनर्गणना कराए जाने की मांग की है।8 जुलाई को जिला पंचायत सदस्य के चुनाव के बाद स्ट्रांग रूम में पेटियां सील करने की जानकारी अन्य प्रत्याशियों को क्यों नहीं दी गई।जबकि मतगणना के दौरान प्रत्याशी पूजा राकेश चौकसे जब 4274 मतों से उनके प्रतिद्वंदी राजेन्द्र बघेल से आगे चल रही थीं।ऐसी स्थिति में टेबिल पर मौजूद प्रशासनिक अधिकारियों ने राजेन्द्र बघेल को जीत देकर विजय प्रमाण पत्र थमा दिया गया है।उन्होंने चुनाव में मतगणना के दौरान भारी धांधली और गड़बड़ी की शिकायत करते हुए मप्र राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल के आला अधिकारियों कलेक्टर रायसेन व जिला निर्वाचन अधिकारी अरविंद दुबे आरओ एसडीएम एलके खरे से निष्पक्ष तरीके से पुनर्मतगणना कराने की मांग की है।
उन्होंने जिला पंचायत सदस्य वार्ड 3 मेहगांव के चुनाव में राजेंद्र बघेल पर मनमानी गुंडागर्दी करने के आरोप लगाए हैं।मुख्यमंत्री एक कैबिनेट मंत्री और पूर्व मंत्री सिलवानी के फोन आने के बाद चुनाव कराने वाले अधिकारी दबाव में हैं।उनके इशारे पर जिपं सदस्य वार्ड 3 मेहगांव सीट पर भारी हेराफेरी और धांधली कर दी गई है।

जाली जाति प्रमाण पत्र कहाँ से हुआ जारी…. जांच का विषय उठ रहे सवाल….

आवेदक पूजा राकेश चौकसे नरवर ने जिला प्रशासन के अधिकारियों से राजेन्द्र बघेल के जाली जाति प्रमाण पत्र को गलत बताते हुए निरस्त करने की मांग की है।उनका यह भी कहना है कि बघेल समाज रायसेन तहसील में सामान्य जाति की श्रेणी में आती है।जबकि पाल गड़रिया और बघेले समाज को ही ओबीसी कोटे में शामिल किया गया है।चूंकि जिला पंचायत अध्यक्ष अनारक्षित के लिए आरक्षित है।वह जुगाड़ लगाकर जिपं अध्यक्ष बनना चाहते हैं।बताया जा रहा है कि इनके अन्य4 भाई बघेल सामान्य जाति में आते हैं।इनकी रिश्तेदारी भी कोटरा ,नरवर, मेहगांव टीकोदा,डाबर में हैं।यहां बघेल समाज सामान्य जाति में आते हैं।ऐसी स्थिति में राजेंद्र बघेल ने कौनसे राजस्व विभाग के अधिकारी को गलत जानकारी देकर चोरी चुपके तरीके से अन्य पिछड़ा वर्ग का जाति सर्टिफिकेट जारी करवाकर मेहगांव वार्ड 3 से अन्य पिछड़ा वर्ग सीट से पिछड़ों के हक अधिकार को छीनकर चुनाव लड़ा है। मामले की निष्पक्ष जांच कर दोषी पर नियमानुसार कार्रवाई की भी मांग की है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.

देवरानी-जेठानी ने सास को पीट-पीटकर मार डाला, उकसाता रहा कलयुगी बेटा, वीडियो वायरल     |     पूर्व सीएम कमलनाथ के घर पहुंची पुलिस की टीम, भाजपा प्रत्याशी ने कमलनाथ के पीए के खिलाफ की शिकायत..     |     राहुल गांधी का हेलिकॉप्टर जैसे ही उतरा, पहुंच गई चुनाव आयोग की जांच टीम…फिर चला तलाशी अभियान     |     शीशे की दीवार-आतंकी जैसा व्यवहार… तिहाड़ में केजरीवाल से मिलकर छलका भगवंत मान का दर्द     |     हरिद्वार: मंदिर में दर्शन करने आए श्रद्धालुओं को पुजारियों ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, क्या रही वजह?     |     मनोज तिवारी ने 10 साल में क्या किया? नॉर्थ ईस्ट दिल्ली से टिकट मिलने पर कन्हैया का BJP पर हमला     |     उज्जैन: लाठी, पाइप-सरिया…. जो मिला उससे पीटा, शादी समारोह बना अखाड़ा, बुलानी पड़ी पुलिस     |     केजरीवाल की याचिका पर थोड़ी देर में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई, ED की गिरफ्तारी को दी है चुनौती     |     10वीं तक पढ़ाई, 5 से ज्यादा आपराधिक मामले, जानें कौन है सलमान के घर के बाहर फायरिंग करने वाला कालू     |     नेहरू ने म्यांमार को गिफ्ट में दिया कोको द्वीप, अब इस पर चीन का नियंत्रण- बीजेपी नेता का कांग्रेस पर हमला     |    

Don`t copy text!
पत्रकार बंधु भारत के किसी भी क्षेत्र से जुड़ने के लिए इस नम्बर पर सम्पर्क करें- 9425036811